माखनलाल यूनिवर्सिटी के प्रभारी कुलपति संजय द्विवेदी बने IIMC के महानिदेशक

संजय द्विवेदी को IIMC का डीजी बनाया गया. (फाइल फोटो)
संजय द्विवेदी को IIMC का डीजी बनाया गया. (फाइल फोटो)

प्रो. संजय द्विवेदी को अगले 3 साल के लिए IIMC का डायरेक्टर जनरल नियुक्त किया गया है. हाल ही में MP की शिवराज सरकार ने उन्हें माखनलाल विश्वविद्यालय के कुलपति का अतिरिक्त प्रभार सौंपा था.

  • Share this:
भोपाल. माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय (MCU) प्रभारी कुलपति और रजिस्ट्रार प्रो. संजय द्विवेदी (Prof. Sanjay Dwivedi) अब दिल्ली के भारतीय जनसंचार संस्थान (IIMC) के महानिदेशक होंगे. कैबिनेट की अप्वाइंटमेंट कमेटी ने प्रो. संजय द्विवेदी को IIMC का डायरेक्टर जनरल बनाने की अधिसूचना जारी कर दी है. उन्हें अगले 3 साल के लिए डीजी आईआईएमसी नियुक्त किया गया है. कार्मिक मंत्रालय द्वारा जारी किए गए आदेश के मुताबिक कैबिनेट ने इस नियुक्ति को हरी झंडी दे दी है. आपको बता दें कि माखनलाल यूनिवर्सिटी में रजिस्ट्रार के पद पर रहे प्रो. द्विवेदी को हाल ही में राज्य सरकार ने इस विश्वविद्यालय के कुलपति का अतिरिक्त प्रभार सौंपा था.

MCU के प्रभारी कुलपति प्रो. संजय द्विवेदी को तीन साल की अवधि के लिए सीधी भर्ती के आधार पर आईआईएमसी के महानिदेशक के रूप में नियुक्ति को मंजूरी दी गई है. आईआईएमसी के डीजी का पद बीते एक साल से खाली था, जिस पर अब प्रो. द्विवेदी पदभार संभालेंगे. प्रो. संजय द्विवेदी वर्तमान में माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार हैं. MCU के पूर्व कुलपति दीपक तिवारी के इस्तीफा देने के बाद पूर्व जनसंपर्क आयुक्त पी.नरहरि को एमसीयू का कुलपति नियुक्त किया गया था. नरहरि के तबादले के बाद प्रो. संजय द्विवेदी को पत्रकारिता विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति का कार्यभार सौंपा गया था.

ये भी पढ़ें - आनंदीबेन पटेल ने ली मध्य प्रदेश के राज्यपाल पद की शपथ



जनसंचार विभाग के एचओडी रहे हैं प्रोफ़ेसर द्विवेदी
प्रोफ़ेसर संजय द्विवेदी लंबे समय से माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय में जनसंपर्क विभाग के एचओडी रहे हैं. फिलहाल वह मीडिया विमर्श पत्रिका के कार्यकारी संपादक हैं. इसके साथ ही 25 पुस्तकों का लेखन और संपादन भी कर चुके हैं. आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में कमलनाथ के नेतृत्व में कांग्रेस सरकार बनने के बाद MCU में प्रो. द्विवेदी के मुश्किल भरे दिन शुरू हो गए थे. 2019 में जब पत्रकार दीपक तिवारी कुलपति बने तो संजय द्विवेदी को पहले कुलसचिव के पद से हटाया गया. इसके कुछ ही दिनों के बाद उन्हें पत्रकारिता विभाग के अध्यक्ष पद से भी हटा दिया गया था. इसके बाद संजय द्विवेदी यूनिवर्सिटी में बतौर प्रोफेसर अपनी सेवाएं दे रहे थे. प्रदेश में कांग्रेस सरकार के जाने और बीजेपी के सत्ता में आने के बाद उन्हें विश्वविद्यालय में कुलपति के पद का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज