लाइव टीवी

मिलिए इन Corona warriors से जो आपकी खातिर कई दिन से अपने घर नहीं गए...
Bhopal News in Hindi

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: April 1, 2020, 5:25 PM IST
मिलिए इन Corona warriors से जो आपकी खातिर कई दिन से अपने घर नहीं गए...
कोरोना वारियर्स जो कई दिन से घर नहीं गए

ये जनसेवक कई दिन से अपने घर तक नहीं गए हैं.ड्यूटी पर मुस्तैद कुछ ऐसे ही लोगों की फोटो, वीडियो और किस्से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं.

  • Share this:
भोपाल.कोरोना वायरस (Corona virus) से बचाव के लिए 21 दिन के लॉक डाउन में जब सब घर में हैं कोरोना वाॉरियर्स (Corona warriors) जान की परवाह किए बिना अपना फर्ज़ अदा कर रहे हैं. इनमें पुलिस (police) वाले भी शामिल हैं और डॉक्टर, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, मीडियाकर्मी, नगर निगम कर्मचारी और फौज के लोग सब शामिल हैं. ये जनसेवक कई दिन से अपने घर तक नहीं गए हैं.ड्यूटी पर मुस्तैद कुछ ऐसे ही लोगों की फोटो, वीडियो और किस्से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं. इन्हीं में से एक हैं भोपाल के CMHO सुधीर डेहरिया जिनकी एक फोटो खूब वायरल हो रही है.

कोरोना से निपटने में प्रदेश भर में डॉक्टर और नर्स पूरी तत्परता से लोगों की सेवा में जुटे हुए हैं.लेकिन इन दिनों एक तस्वीर हर तरफ छाई हुई है यह है राजधानी भोपाल के सीएमएचओ डॉ सुधीर डेहरिया की. वो अपनी पूरी टीम के साथ कोरोना पॉजिटिव मरीजों के इलाज में पूरी तत्परता से लगे हुए हैं.ना सिर्फ सुधीर डेहरिया बल्कि कई ऐसे डॉक्टर है जो संकट की इस घड़ी में परिवार को छोड़ जनसेवा की मिसाल पेश कर रहे हैं.

बस 10 मिनिट परिवार से मिले
सीएमएचओ डॉ सुधीर डेहरिया भोपाल जिले में कोरोना वायरस से निपटने के लिए स्वास्थ्य टीम का नेतृत्व कर रहे हैं. यही वजह है कि पॉजिटिव केस आने के कारण भोपाल में परिवार के रहने के बावजूद भी वो घर नहीं जा सके हैं. हफ्ते भर बाद वो अपने परिवार से मिलने गए. लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का उन्होंने पूरा ध्यान रखा. डॉ डेहरिया घर के अंदर नहीं गए. गेट के बाहर एक पट्टी पर बैठ गए. उनसे मिलने उनकी पत्नी और दो छोटे बच्चे बाहर निकल आए और गेट पर खड़े होकर दूर से ही उनसे बात करके तसल्ली कर ली. डॉ डेहरिया ने पत्नी के हाथ से बनी एक कप चाय पी और फिर वापस अपनी ड्यूटी पर लौट गए. ये तस्वीर जब वायरल हुई तो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी सीएमएचओ सुधीर डेहरिया के जज्बे को सलाम किया.



डॉक्टर अजय थेटे 24 घंटे दे रहे हैं ड्यूटी


भोपाल के एक और डॉक्टर अजय थेटे भी 24 घंटे अपनी ड्यूटी निभा रहे हैं. वो जेपी अस्पताल में छाती और सांस रोग विशेषज्ञ हैं. इसी अस्पताल में कोरोना मरीज़ों की जांच हो रही है. भोपाल जिले से अभी तक 130 सैंपल लिए गए हैं. इनमें 70 मरीज़ों की जांच अकेले डॉ. अजय थेटे ने ही की है. सुबह 8 बजे अस्पताल पहुंचने के बाद भर्ती मरीजों को देखने के साथ सैंपल जांच की जिम्मेदारी भी इन्हीं की है.वो सुल्तानिया अस्पताल और क्वॉरेंटाइन में रह रहे मरीजों के सैंपल लेने के लिए खुद जाते हैं. वो लगातार मरीजों की सेवा कर रहे हैं.

टीबी अधिकारी भी फील्ड में
जिला टीबी अधिकारी डॉ मनोज वर्मा घूम-घूम कर ऐसे लोगों के घर के बाहर क्वॉरेंटाइन का बोर्ड लगा रहे हैं जिनमें कोरोना संक्रमण की आशंका है. वर्मा की बेटी खुद विदेश से लौटी हैं. वह क़्यावारेंइनटाइन हैं. डॉक्टर पिता अपनी बेटी से नहीं मिल पा रहे हैं. देर रात घर पहुंचते हैं और फिर सुबह मरीजों के इलाज के लिए चल देते हैं.क्वॉरेंटाइन में रह रहे लोगों की निगरानी में डॉक्टर वर्मा की ड्यूटी लगी हुई है. ये जंग मुश्किल है. दूसरों की जान बचाने के लिए खुद अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं. लेकिन फर्ज़ सबसे ऊपर है.

ये भी पढ़ें-

COVID 19 : कोरोना के खिलाफ जंग के बीच 1100 मजदूरों को पाल रही है पुलिस

Exclusive : भोपाल की निशातपुरा फैक्ट्री ने तैयार किए 40 आइसोलेशन कोच

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 1, 2020, 5:16 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading