लाइव टीवी

सरकार लगा रही है 'मेट्रो' में धक्का, चुनाव से पहले स्टार्ट करने की हड़बड़ी

Makarand Kale | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 1, 2018, 11:32 AM IST
सरकार लगा रही है 'मेट्रो' में धक्का, चुनाव से पहले स्टार्ट करने की हड़बड़ी
मेट्रो (फाइल फोटो)

सितंबर में इंदौर में सीएम शिवराज से तारीख मिलते ही प्रोजेक्ट का भूमिपूजन करने की तैयारी की जा रही है, उसके बाद दिसंबर में भोपाल की बारी आएगी.

  • Share this:
मध्य प्रदेश में चुनावी मेट्रो रफ़्तार पकड़ रही है. सरकार की कोशिश है कि चुनाव से पहले मेट्रो का काम शुरू हो जाए. सितंबर में इंदौर और दिसंबर में भोपाल में काम शुरू करने का प्लान है.मेट्रो का सपना सबसे पहले तत्कालीन मुख्य मंत्री बाबूलाल गौर ने देखा था.

सितंबर में इंदौर में सीएम शिवराज से तारीख मिलते ही प्रोजेक्ट का भूमिपूजन करने की तैयारी की जा रही है, उसके बाद दिसंबर में भोपाल की बारी आएगी. केंद्र सरकार के वित्त मंत्रालय की हरी झंडी के बाद मेट्रो के काम ने रफ्तार पकड़ी है,

भोपाल में पहला रूट करीब 14.99 किमी का होगा जो साकेत नगर से करोंद तक होगा. इसकी एम्स से साकेत नगर तक 6.25 किमी की पहली लाइन बिछाई जाएगी.दूसरा ट्रैक भदभदा से रत्नागिरी तक 12.88 किमी लंबा होगा.

11 साल पहले 2007 में मुख्य मंत्री रहते हुए बाबूलाल गौर ने भोपाल मेट्रो का ऐलान किया था. 2010 में बाबूलाल गौर नगरीय प्रशासन मंत्री हो गए और वो मेट्रो के सिलसिले में तत्कालीन केंद्रीय परिवहन मंत्री कमलनाथ से मिले थे. उसके बाद से मंथर गति से मेट्रो का काम चल रहा था.

अब चुनाव आते ही प्रोजेक्ट को केंद्र से हरी झंडी मिल गई. पहले फेज़ के लिए एम्स से सुभाष नगर के 6.25 किमी रुट के लिए 277 करोड़ का टेंडर जारी किया गया है.

मेट्रो रेल प्रोजेक्ट में कंसल्टेंट कंपनी को बार बार परेशानी आ रही है. सबसे पहले तो उसे पूरे रास्ते में आने वाले अतिक्रमण को हटाना होगा. प्रोजेक्ट में केंद्र का 20% और राज्य का 80% शेयर था.जब केंद्र सरकार ने लोन का गारंटर बनने से मना कर दिया तो प्रोजेक्ट अटक गया था.
काफी मशक्कत के बाद यूरोपियन डेवलपमेंट बैंक कर्ज़ देने को राजी हुआ. मेट्रो के पहले फेज में 3200 करोड़ रुपए के कर्ज़ का प्रपोजल है.
Loading...

ये भी पढ़ें - मध्य प्रदेश की बेटी हर्षिता ने एशियन गेम्स में बढ़ाया गौरव, सेलिंग में जीता कांस्य पद

  •                 स्टेशन पर घंटों लटकी रही एक लाश, रेलवे-जीआरपी और आरपीएफ बेख़बर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 1, 2018, 11:32 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...