कलराज मिश्र बोले, '75 वर्ष' का फार्मूला लागू होता तो मैं मंत्री पद पर कैसे बना रहता
Bhopal News in Hindi

केन्द्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग मंत्री कलराज मिश्र ने मीडिया से कहा कि, मुझे नहीं पता है कि पार्टी में 75 वर्ष का फार्मूला लागू है. अगर लागू होता तो मैं मंत्री पद पर कैसे बना रहता.

  • Share this:
भाजपा में 75 साल की उम्र के नेताओं की राजनीतिक और सरकारी पदों से छुट्टी करने के फार्मूले की केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्र ने हवा निकाल दी है.

मध्यप्रदेश दौरे पर आए केन्द्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग मंत्री कलराज मिश्र ने भोपाल में मीडिया से कहा कि, मुझे नहीं पता है कि पार्टी में 75 वर्ष का फार्मूला लागू है. अगर लागू होता तो मैं मंत्री पद पर कैसे बना रहता.

उन्होंने कहा कि, मैं 75 वर्ष पार कर गया हूं. मिश्र ने मीडिया से कहा कि जहां से आपको पता लगा है कि ये फार्मूला लागू है, वहां से पता कर लो. हमें इस फार्मूले की जानकारी नहीं है. मैं तो काम कर रहा हूं.



गौरतलब है कि इसी फार्मूले पर पार्टी के वयोवृद्ध विधायक बाबूलाल गौर और सरताज सिंह की मंत्री पद से छुट्टी कर दी गई थी.
यूपी में मुद्दों से ध्यान डायवर्ट करने की राजनीति

उत्तरप्रदेश में सपा परिवार में मचे घमासान पर देवरिया से सांसद और केन्द्रीय कलराज मिश्र ने कहा कि अखिलेश यादव और मुलायम सिंह लोगों का मुद्दों से ध्यान डायवर्ट करने की राजनीति कर रहे हैं.

मिश्र ने भोपाल में ईटीवी से बातचीत में कहा कि यूपी में कानून-व्यवस्था ध्वस्त हो गई है और पब्लिक त्रस्त है. समाजवादी संगठन और सरकार में उलटफेर और फेरबदल कानून-व्यवस्था से त्रस्त लोगों का ध्यान बांटने के लिए किया गया है. लोगों ने इस बार बीजेपी की सरकार बनाने का मन बना लिया है.

बीजेपी में मुख्यमंत्री पद का चेहरा कौन है. इस सवाल पर कलराज मिश्र ने कहा कि सीएम पद के लिए पार्टी में बहुत चेहरे हैं, लेकिन विधानसभा चुनाव संगठन लड़ेगा.

राहुल की खड़ी कर दी खटिया 

यूपी बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष रह चुके केन्द्रीय मंत्री कलराज मिश्र ने कहा कि यूपी में कांग्रेस अस्तित्व बचाने की लड़ाई लड़ रही है. देवरिया के लोगों ने राहुल गांधी की खटिया खड़ी कर दी. 'लड़के' पर अखिलेश यादव और राहुल गांधी की बयानबाजी को कलराज मिश्र ने नूरा-कुश्ती करार दिया.

पढ़ें- मंत्री पद से हटाने पर छलका बाबूलाल गौर का दर्द- "इतना मलाल मुझे सीएम पद छोड़ने पर भी नहीं हुआ था"

चार घंटे चले ड्रामे के बाद बाबूलाल गौर का इस्तीफा, कहा- कोई नाराजगी नहीं
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज