Home /News /madhya-pradesh /

mirchi baba meets ex cm kamal nath releases video demands vidhan sabha chunav tickets political drama check details mpns

एमपी: मिर्ची बाबा ने की पूर्व सीएम कमलनाथ से मुलाकात, क्या कांग्रेस पूरी करेगी उनकी ये उम्मीद?

Bhopal News: विवादित मिर्ची बाबा ने पूर्व सीएम कमलनाथ से भोपाल में मुलाकात कर विधानसभा चुनाव में साधु-संतों को टिकट देने को कहा है.

Bhopal News: विवादित मिर्ची बाबा ने पूर्व सीएम कमलनाथ से भोपाल में मुलाकात कर विधानसभा चुनाव में साधु-संतों को टिकट देने को कहा है.

MP Politics: अक्सर विवादों में रहने वाले मिर्ची बाबा वैराग्यनंद गिरी ने रविवार को मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ से मुलाकात की. उन्होंने कमलनाथ से मुलाकात का बाकायदा वीडियो जारी किया. बाबा ने कमलनाथ से साधु-संतों के लिए अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के टिकट मांगे हैं. उन्होंने पूर्व सीएम से कहा है कि साधु-संतों को विधानसभा चुनाव में ज्यादा से ज्यादा मौका दिया जाए. दोनों की इस मुलाकात पर बीजेपी ने चुटकी ली है. उसने कहा है कि मिर्ची बाबा को देखते हुए अंदाजा लगाया जा सकता है कि कांग्रेस से कौन-कौन चुनाव लड़ेगा.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. मध्य प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में साधु-संत भी जोर आजमाइश करते हुए नजर आ सकते हैं. मिर्ची बाबा वैराग्यानंद गिरी ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ से मुलाकात कर 2023 के विधानसभा चुनाव में साधु-संतों को टिकट देने की मांग की है. उन्होंने साधु-संतों को टिकट का दावेदार बताते हुए विधानसभा चुनाव में उन्हें ज्यादा से ज्यादा मौका देने की मांग की है. मिर्ची बाबा ने पूर्व सीएम कमलनाथ से हुई अपनी मुलाकात का वीडियो जारी करते हुए कहा है कि कांग्रेस पार्टी ने भरोसा दिया है कि अगले विधानसभा चुनाव में साधु-संतों को टिकट दिया जाएगा.

कांग्रेस में मिर्ची बाबा की साधु संतों के समर्थन में लॉबिंग को लेकर बीजेपी ने निशाना साधा है. बीजेपी के प्रदेश मंत्री राहुल कोठारी ने कहा है कि कांग्रेस में कंप्यूटर बाबा, मिर्ची बाबा जैसे बाबा मौजूद हैं. इनका बैकग्राउंड भी सभी को पता है. हाल ही में मिर्ची बाबा ग्वालियर में मंच पर जगह नहीं मिलने पर धूनी रमाते हुए दिखाई दिए थे. ऐसे में कांग्रेस में कौन से साधु-संत चुनाव मैदान में दिखाई देंगे इसका अंदाजा लगाया जा सकता है.

कांग्रेस ने कही ये बात
इधर, इस मामले पर कांग्रेस नेता जेपी धनोपिया ने कहा कि बीजेपी में जब साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर, उमा भारती जैसी नेता चुनाव लड़ सकती हैं तो कांग्रेस से साधु-संत चुनाव क्यों नहीं लड़ सकते. सिर्फ बीजेपी ने हिंदू होने का ठेका नहीं ले रखा है. कांग्रेस पार्टी विधानसभा चुनाव में सर्वे के आधार पर साधु-संतों को भी टिकट देगी. दरअसल, बीजेपी और कांग्रेस दोनों में ही साधु संतों को चुनाव मैदान में उतार कर बड़ा संदेश देने की कोशिश की जाती है.

बीजेपी-कांग्रेस ने दिया था साध्वियों को टिकट
बता दें, 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने भोपाल से साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को टिकट दिया था. वहीं, कांग्रेस ने उपचुनाव में बड़ा मलहरा सीट से कथावाचक साध्वी रामसिया भारती को टिकट देकर खुद को सॉफ्ट दिखाने की कोशिश की. लेकिन, अब जिस तरीके से साधु संत विधानसभा चुनाव को लेकर अभी से लॉबिंग करते हुए दिखाई दे रहे हैं, उस हिसाब से 2023 का विधानसभा चुनाव भगवा रंग में रंगा होगा.

Tags: Bhopal news, Mp news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर