Home /News /madhya-pradesh /

दिग्विजय के भाई लक्ष्मण सिंह बोले, 'कांग्रेस अध्यक्ष कोई भी बने, नतीजे ज्यों के त्यों रहेंगे'

दिग्विजय के भाई लक्ष्मण सिंह बोले, 'कांग्रेस अध्यक्ष कोई भी बने, नतीजे ज्यों के त्यों रहेंगे'

पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के भाई कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह (Laxman Singh) ने फिर अपनी ही पार्टी पर सवाल उठाए.

पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के भाई कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह (Laxman Singh) ने फिर अपनी ही पार्टी पर सवाल उठाए.

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) कांग्रेस विधायक (Congress MLA) लक्ष्मण सिंह (Laxman Singh) के बयान पर बीजेपी (BJP) ने चुटकी ली. प्रदेश बीजेपी मंत्री रजनीश अग्रवाल ने कहा कि कांग्रेस में निर्णयों के विकेंद्रीकरण की बात न संभव थी, न है और न होने वाली है.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कांग्रेस विधायक (Congress MLA) लक्ष्मण सिंह (Laxman Singh) ने फिर अपनी ही पार्टी की पर सवाल उठाए. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष कोई भी बने. जब तक बूथ कार्यकर्ता को मजबूत नहीं करेंगे. नतीजे ज्यो के त्यों ही रहेंगे. मंडलम सेक्टर बन गए हैं. फिर भी निर्णय ऊपर से होते हैं क्यों. उनका इशारा राष्ट्रीय नेतृत्व पर था. क्योंकि अब चर्चा शुरू हो गई है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी बन सकते हैं. कांग्रेस नेता लक्ष्मण सिंह के ट्वीट पर बीजेपी ने चुटकी ली. प्रदेश बीजेपी मंत्री रजनीश अग्रवाल ने कहा कि कांग्रेस में निर्णयों के विकेंद्रीकरण की बात न संभव थी, न है और न होने वाली है.

रजनीश अग्रवाल ने कहा कांग्रेस में सभी निर्णय एक परिवार के लोग लेते हैं. लक्ष्मण सिंह ने बात तो सही कही, लेकिन आज तक कांग्रेस पार्टी में एक ही परिवार के चलती है. यदि उस परिवार के खिलाफ कोई जाता है तो उसका पत्ता साफ हो जाता है.

कांग्रेस ने किया पलटवार
कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह के ट्वीट पर बीजेपी के बयान को लेकर कांग्रेस ने भी पलटवार किया है. प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता अजय सिंह यादव ने कहा कि कांग्रेस एक लोकतांत्रिक पार्टी है. जिसमें नेता और कार्यकर्ता समय-समय पर अपने सुझाव रखते हैं. बीजेपी में जरूर टूट और विखंडन स्पष्ट दिखाई दे रहा है. सीएम की कुर्सी के लिए दावेदारों की होड़ मची है. भोपाल से लेकर दिल्ली तक नेता दौड़ लगा रहे हैं. इसके बावजूद बीजेपी के नेता कांग्रेस की चिंता कर रहे हैं. पहले बीजेपी अपना घर संभाले. बहरहाल मध्य प्रदेश में उपचुनावों के बीच बीजेपी और कांग्रेस के नेताओं की बयानबाजियों ने सियासी सरगर्मी तेज कर दी है. दोनों ही दलों के कुछ नेता अपनी पार्टी के खिलाफ ही मोर्चा खोल रखे हैं. इसके तहत ही उनकी बयानबाजियां भी सामने आ रही हैं.

Tags: Bhopal news, Congress, Madhya pradesh news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर