पेड न्यूज पर चुनाव आयोग की नजर, बनाया गया मीडिया मॉनिटरिंग रूम!
Bhopal News in Hindi

पेड न्यूज पर चुनाव आयोग की नजर, बनाया गया मीडिया मॉनिटरिंग रूम!
कर्मचारी न्यूज़ चैनलों पर प्रसारित हो रहीं पल-पल की खबरों पर नजर रख रहे हैं

रूम में कार्यरत कर्मचारियों का कहना है कि हमारा मकसद न्यूज चैनल में चल रही ख़बरों को देखना है और उन पर नजर रखना है कि कहीं किसी पार्टी या संगठन द्वारा पेड न्यूज तो नहीं चल रही है

  • Share this:
मध्य प्रदेश में चुनाव तारीखों का ऐलान होने के साथ ही चुनाव आयोग ने कमर कस ली है. चुनाव को निष्पक्ष कराने के लिए आयोग के दफ्तर में मीडिया मॉनिटरिंग सेंटर सक्रिय हो गया है. इस सेंटर पर एक दर्जन से ज्यादा कर्मचारी न्यूज़ चैनलों पर प्रसारित हो रहीं पल-पल की खबरों पर नजर रख रहे हैं.

दरअसल, आयोग ने इसके लिए एक नोडल अधिकारी को भी नियुक्ति किया है. मीडिया मॉनिटरिंग सेंटर का मकसद चुनाव में पेड न्यूज़ पर रोक लगाना है. रूम में कार्यरत कर्मचारियों का कहना है कि हमारा मकसद न्यूज चैनल में चल रही ख़बरों को देखना है और उन पर नजर रखना है कि कहीं किसी पार्टी या संगठन द्वारा पेड न्यूज तो नहीं चल रही है.

बता दें कि मध्य प्रदेश सहित चार राज्यों के लिए चुनाव आयोग ने चुनावों के लिए तारीखों का ऐलान कर दिया है. मध्यप्रदेश की 230 विधानसभा सीटों पर और मिजोरम की 40 सीटों के लिए एक साथ 28 नवंबर को एक ही चरण में वोटिंग होगी. वहीं चुनावों की तारीखों के ऐलान के बाद राज्य में आचार संहिता लग गई है.



मध्य प्रदेश का चुनाव कार्यक्रम
2 नवंबर- नोटिफिकेशन जारी होने की तारीख
9 नवंबर- नामांकन की आखिरी तारीख
12 नवंबर- स्क्रूटनी की तारीख
14 नवंबर- नामांकन वापस लेने की अंतिम तारीख
28 नवंबर- 230 विधानसभा सीटों पर मतदान.
11 दिसंबर- मतगणना

यह पढ़ें- मध्य प्रदेश में 28 नवम्बर को एक ही चरण में होगा मतदान, आचार संहिता लागू

बुंदेलखंड: गुटबाजी में फंसी बीजेपी-कांग्रेस, सूखा और बेरोज़गारी की चिंता कौन करे?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज