अपना शहर चुनें

States

कांग्रेस के विधान सभा घेराव के ऐलान पर तंज- बीजेपी बोली चार्टर वाले ट्रैक्टर पर होंगे सवार!

कमल पटेल, कृषि मंत्री, एमपी
कमल पटेल, कृषि मंत्री, एमपी

नये कृषि कानून (New agriculture law) के विरोध में कांग्रेस (Congress) ने 8 दिसंबर को हुए भारत बंद का भी समर्थन किया था.अब कांग्रेस की तैयारी 28 दिसंबर से शुरू हो रहे सत्र के दौरान सरकार को घेरने की है.

  • Share this:
भोपाल.मध्यप्रदेश विधानसभा(MP Assembly) का आगामी सत्र हंगामेदार रहने के पूरे आसार बन गए हैं.कांग्रेस के इस ऐलान के बाद कि किसानों के मुद्दे पर उसके विधायक और खुद पीसीसी चीफ कमल नाथ (Kamalnath) सत्र के पहले दिन यानि 28 दिसंबर को ट्रैक्टर पर सवार होकर विधानसभा पहुंचेंगे, बीजेपी हमलावर हो गई है. कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा चार्टर पर बैठने वाले अब ट्रैक्टर पर बैठेंगे.अगर पहले ही किसानों के बीच चले जाते तो कांग्रेस का आज ये हाल नहीं होता.

कमल पटेल ने कहा कांग्रेस कभी किसानों का दर्द नहीं समझ सकती वो सिर्फ किसानों के ज़रिए अपनी राजनीति चमकाना चाहते हैं. एमपी विधानसभा का सत्र 28 दिसंबर से शुरू हो रहा है. सत्र तीन दिन का होगा.

कांग्रेस का ऐलान
कांग्रेस ने विधानसभा सत्र के पहले दिन ट्रैक्टर से विधानसभा के घेराव का ऐलान किया है. 28 दिसंबर को कांग्रेस ट्रैक्टर पर सवार होकर विधानसभा का घेराव करेगी. खुद पीसीसी चीफ कमलनाथ भी ट्रैक्टर पर सवार होंगे.विधानसभा सत्र के पहले दिन ट्रैक्टर पर बैठकर विधायक भी विधानसभा पहुंचेंगे. ये प्रदर्शन किसान आंदोलन के समर्थन में होगा. खास बात ये है कि 28 दिसंबर को ही कांग्रेस का स्थापना दिवस भी है.कांग्रेस ने प्रदेश भर से किसानों को ट्रैक्टर के साथ भोपाल बुलाया है.




किसानों पर आर पार
मध्यप्रदेश में भले ही किसान आंदोलन की आहट ना हो लेकिन नये कृषि कानून को लेकर बीजेपी और कांग्रेस आमने-सामने हैं. एक तरफ कांग्रेस किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए लगातार सरकार पर सवाल खड़े कर रही है वहीं दूसरी तरफ बीजेपी किसानों को समझाने के लिए सम्मेलन और सभाओं का सहारा ले रही है. बीते दिनों कांग्रेस ने 8 दिसंबर को हुए भारत बंद का भी समर्थन किया था.अब कांग्रेस की तैयारी 28 दिसंबर से शुरू हो रहे सत्र के दौरान सरकार को घेरने की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज