MP उपचुनाव 2020: सिंधिया का कमलनाथ पर 'प्रहार', कहा- जनता के प्रति वफादार रहने वाला कुत्ता हूं

कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए ज्योतिरादित्या सिंधिया और कमलनाथ के बीच उपचुनावों के प्रचार के दौरान तीखे आरोप-प्रत्यारोप जारी है
कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए ज्योतिरादित्या सिंधिया और कमलनाथ के बीच उपचुनावों के प्रचार के दौरान तीखे आरोप-प्रत्यारोप जारी है

एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने कहा कि कमलनाथ (Kamalnath) मुझे कुत्ता कहते हैं. मैं कहता हूं कि हां, मैं कुत्ता हूं क्योंकि मैं जनता का सेवक हूं... चूंकि कुत्ता अपने मालिक की रक्षा करता है और यदि कोई गलत काम (भ्रष्टाचार) करता है या विनाशकारी राजनीति करता है तो कुत्ता उसपर हमला बोल देता है

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 31, 2020, 8:18 PM IST
  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव (MP Assembly Byelection 2020) के रण में नेताओं और राजनीतिक दलों के बीच जारी जुबानी जंग चरम पर है. इसी कड़ी में शनिवार को बीजेपी के राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता कमलनाथ (Kamalnath) पर पलटवार किया है. न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए सिंधिया ने कहा कि कमलनाथ मुझे कुत्ता कहते हैं. मैं कहता हूं कि हां, मैं कुत्ता हूं क्योंकि मैं जनता का सेवक हूं... चूंकि कुत्ता अपने मालिक की रक्षा करता है और यदि कोई गलत काम (भ्रष्टाचार) करता है या विनाशकारी राजनीति करता है तो कुत्ता उसपर हमला बोल देता है.
सिंधिया इतने पर ही नहीं रूके, उन्होंने कमलनाथ पर हमले बोलना जारी रखते हुए कहा कि 15 महीनों तक कमलनाथ को जनता की याद नहीं आई, वल्लभ भवन में बैठकर वो अपनी जेब भरते रहे. आज जब उनकी सरकार सड़क पर आ गई है तो जनता के पास वोट मांगने जा रहे हैं.


3 नवंबर को 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव, 10 नवंबर को आएंगे नतीजे
बता दें कि इसी साल मार्च में कांग्रेस के 22 विधायक पाला बदलकर बीजेपी में शामिल हो गए थे. इससे कांग्रेस की तत्कालीन कमलनाथ सरकार अल्पमत में आ गई थी जिसके बाद राज्यपाल ने सदन में बहुमत परीक्षण करवाने के निर्देश दिया था. मगर इससे पहले ही 20 मार्च को कमलनाथ ने सीएम हाउस में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था.



मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों के लिए तीन नवंबर को उपचुनाव होने हैं. वोटों की गिनती 10 नवंबर को होगी. इन 28 सीटों पर 12 मंत्रियों सहित कुल 355 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. बीजेपी ने उन सभी 25 लोगों को अपना प्रत्याशी बनाया है, जो कांग्रेस से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज