Home /News /madhya-pradesh /

MP विधानसभा का शीतकालीन सत्र 20 दिसंबर से : 5 दिन के सेशन में इन मुद्दों पर हो सकता है हंगामा

MP विधानसभा का शीतकालीन सत्र 20 दिसंबर से : 5 दिन के सेशन में इन मुद्दों पर हो सकता है हंगामा

MP Assembly News : विधान सभा का आगामी शीतकालीन सत्र सोमवार 20 दिसम्‍बर 2021 से शुरू होकर शुक्रवार 24 दिसम्‍बर 2021 तक चलेगा. पन्‍द्रहवीं विधान सभा का यह दसवां सत्र होगा.

MP Assembly News : विधान सभा का आगामी शीतकालीन सत्र सोमवार 20 दिसम्‍बर 2021 से शुरू होकर शुक्रवार 24 दिसम्‍बर 2021 तक चलेगा. पन्‍द्रहवीं विधान सभा का यह दसवां सत्र होगा.

MP Assembly News : विधान सभा का आगामी शीतकालीन सत्र सोमवार 20 दिसम्‍बर 2021 से शुरू होकर शुक्रवार 24 दिसम्‍बर 2021 तक चलेगा. पन्‍द्रहवीं विधान सभा का यह दसवां सत्र होगा.

भोपाल. मध्य प्रदेश विधान सभा (MP Assembly) का आगामी शीतकालीन सत्र (Winter Session) 20 दिसम्‍बर से शुरू होगा. पन्‍द्रहवीं विधानसभा के शीतकालीन सत्र के लिए मंगलवार को अधिसूचना जारी कर दी गई. सत्र सोमवार 20 दिसम्‍बर 2021 से शुरू होकर शुक्रवार 24 दिसम्‍बर 2021 तक चलेगा. इस पांच दिन के सत्र में सदन की कुल 5 बैठकें होंगी. इसमें महत्‍वपूर्ण सरकारी विधि और वित्‍तीय काम किये जाएंगे.

मध्य प्रदेश की पन्‍द्रहवीं विधान सभा का यह दसवां सत्र होगा. विधान सभा के प्रमुख सचिव ए.पी.सिंह के मुताबिक सत्र 5 दिन चलेगा.

इन मुद्दों पर चर्चा संभव
विधानसभा में विधायकों के प्रश्नों के सवाल-जवाब के अलावा कई अहम मुद्दों पर चर्चा की संभावना है. सरकार के प्रवक्ता और गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा पहले ही यह कह चुके हैं कि इंदौर और भोपाल में लागू की जा रही कमिश्नर प्रणाली पर इस सत्र में चर्चा की जाएगी. दूसरी तरफ यह माना जा रहा है कि कांग्रेस खाद समस्या और महंगाई के मुद्दे पर सरकार को घेरने की रणनीति अपनाएगी.

सत्र पर सियासत
विधानसभा का शीतकालीन सत्र महज 5 दिन रखने पर कांग्रेस की ओर से सवाल उठाए गए हैं. कांग्रेस का कहना है विधानसभा सत्र की अवधि को बढ़ाया जाना चाहिए. सरकार जनता से जुड़े हुए मुद्दों पर चर्चा से भाग रही है. बीजेपी ने इसका जवाब देते हुए साफ किया है कि कांग्रेस अभी से ये बात कहकर सदन में जनहित के मुद्दों पर चर्चा ना हो पाए इसकी भूमिका तैयार कर रही है.

Tags: Bhopal latest news, Madhya Pradesh Assembly, Madhya pradesh latest news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर