Good News: मध्य प्रदेश में डिमांड से ज्यादा ऑक्सीजन की हो रही सप्लाई, अस्पतालों का बैकअप बढ़ा

मध्य प्रदेश में ऑक्सीजन को लेकर हालात सुधरने लगे हैं. (File)

मध्य प्रदेश में ऑक्सीजन को लेकर हालात सुधरने लगे हैं. (File)

Good News: कोरोना संकट के बीच ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे मध्य प्रदेश में अब मांग से ज्यादा मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति हो रही है. राज्य को 545 की जगह रोजाना 650 टन मिल रहा है ऑक्सीजन.

  • Last Updated: May 8, 2021, 3:55 PM IST
  • Share this:

भोपाल. मध्य प्रदेश के लिए राहत भरी, अच्छी खबर है. जिस ऑक्सीजन के लिए अभी तक मारामारी हो रही थी, वो अब पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है. ऑक्सीजन अब डिमांड से ज्यादा सप्लाई हो रही है. अब प्रदेश में 545 टन की जगह 650 टन ऑक्सीजन रोज मिल रही है. भोपाल समेत बड़े शहरों में ऑक्सीजन मिलने की वजह से अस्पतालों का बैकअप भी बढ़ गया है.

जानकारी के मुताबिक, भोपाल में 105 टन ऑक्सीजन की सप्लाई हो रही है. यह जरूरत से 5 टन ज्यादा है. अस्पतालों का ऑक्सीजन बैकअप भी 10 घंटे तक पहुंच गया है. इंदौर में भी औसतन रोज 123 टन ऑक्सीजन मिल रही है. भोपाल के सबसे बड़े प्रोसेसिंग प्लांट भारतीय एयर प्रोडक्ट से भोपाल के साथ सीहोर, विदिशा, रायसेन, राजगढ़, शाजापुर ऑक्सीजन की सप्लाई हो रही है.

24 घंटे में मिले 11708 मरीज

ध्य प्रदेश में 24 दिन से लॉकडाउन, फिर कोरोना के नए केस मिलने का सिलसिला कम नहीं हो रहा है. 24 घंटे के अंदर कोरोना  के 11708 नए केस मिले हैं. वहीं 4815 लोग ठीक होकर अपने घर लौट गए. 24 घंटे के अंदर प्रदेश में 84 लोगों के संक्रमण से मौत की पुष्टि हुई है. इन नए केस के साथ ही अब मध्य प्रदेश में 6 लाख 49 हजार 114 लोग संक्रमित हो चुके हैं, वहीं 6,244 की कोरोना संक्रमण से मौत की पुष्टि हुई है. अब मध्य प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 95,423 हो गई है. अब तक 5,47,447 लोग रिकवर हो गए हैं.

Youtube Video

कोरोना कर्फ्यू 15 मई तक बढ़ाया गया 

मध्य प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू शनिवार 15 मई तक बढ़ा दिया गया है. प्रदेश में वीकएंड कर्फ्यू पहले से ही लागू होने के कारण इसकी अवधि 17 मई की सुबह 6 बजे तक रहेगी. शिवराज सिंह चौहान ने आज इसका ऐलान किया. उन्होंने अपने वर्च्युअल संबोधन में प्रदेश में कोरोना मरीज़ों का पॉजिटिविटी रेट घटने पर तसल्ली ज़ाहिर की. साथ ही कहा अभी भी संकट टला नहीं है. सबके सहयोग से ही कोरोना से निपटा जा सकता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज