Home /News /madhya-pradesh /

बंगाल चुनाव: मुख्यमंत्री शिवराज भी झोंकेंगे पूरी ताकत, कांग्रेस फिर कमलनाथ के भरोसे

बंगाल चुनाव: मुख्यमंत्री शिवराज भी झोंकेंगे पूरी ताकत, कांग्रेस फिर कमलनाथ के भरोसे

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बंगाल चुनाव में धुंआधार प्रचार करेंगे. (File)

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बंगाल चुनाव में धुंआधार प्रचार करेंगे. (File)

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी बंगाल चुनाव में प्रचार करेंगे. वे वहां कई कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे. इधर कांग्रेस ने फिलहाल कोई नाम तय नहीं किया है.

भोपाल. पश्चिम बंगाल के चुनावी दंगल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी प्रचार करेंगे. शिवराज वहां रविवार को आयोजित होने वाली बीजेपी की परिवर्तन रैली में शामिल होंगे. मुख्यमंत्री शनिवार रात कोलकाता पहुंचेंगे. इधर प्रदेश कांग्रेस ने बंगाल चुनाव में प्रचार करने के लिए किसी नेता का नाम तय नहीं किया है. पार्टी वहां चुनाव प्रचार के लिए कमलनाथ के नाम का चुनाव कर सकती है.

बंगाल चुनाव से पहले वहां प्रचार करने जा रहे मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वहां BJP की सरकार बनने का दावा किया है. उन्होंने ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि बंगाल में अनेकों बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या की गई. इनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा. इस बार ममता बनर्जी की सरकार को उखाड़ फेंकगे. जनता बीजेपी के साथ है.
जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 28 फरवरी की सुबह कालीघाट मंदिर और दक्षिणेश्वर मंदिर के दर्शन करेंगे. इसके बाद वहां आयोजित होने वाले पौधरोपण कार्यक्रम में शामिल होंगे. पौधरोपण के बाद कोलकाता के पास धुलागोरी मोड़ से हावड़ा साउथ तक आयोजित होने वाली परिवर्तन रैली में शामिल होंगे और जनसभा को संबोधित करेंगे.

पश्चिम बंगाल के लिए कांग्रेस ने नहीं की जिम्मेदारी तय

दूसरी ओर, पश्चिम बंगाल चुनाव को लेकर प्रदेश कांग्रेस में फिलहाल कोई जिम्मेदारी तय नहीं की गई है. कांग्रेस मीडिया इंचार्ज केके मिश्रा ने कहा कि AICC जिन नेताओं को चुनाव में जाने की जिम्मेदारी देगी वही नेता पश्चिम बंगाल में पार्टी के पक्ष में प्रचार करेंगे. उन्होंने कहा कि कमलनाथ पश्चिम बंगाल में कांग्रेस का पापुलर चेहरा हैं. पार्टी अगर उन्हें निर्देश देगी तो वे वहां जाएंगे.

इन तारीखों में होंगे बंगाल के चुनाव

चुनाव आयोग द्वारा तारीखों की घोषणा कर दी गई है. गौरतलब है कि 294 सीटों वाली विधानसभा के लिए वोटिंग 27 मार्च (30 सीट), 1 अप्रैल (30 सीट), 6 अप्रैल (31 सीट), 10 अप्रैल (44 सीट), 17 अप्रैल (45 सीट), 22 अप्रैल (43 सीट), 26 अप्रैल (36 सीट), 29 अप्रैल (35 सीट) को होगी. पश्चिम बंगाल में भी काउंटिंग 2 मई को की जाएगी.

ममता ने उठाए तारीखों पर सवाल

चुनाव आयोग की घोषणा के तुरंत बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सवाल उठाए हैं. उन्होंने पूछा है कि 8 चरणों में चुनाव किसको फायदा पहुंचाने के लिए रखा गया है. याद दिला दें साल 2011 में तृणमूल कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल की राजनीति में इतिहास रच दिया था. ममता बनर्जी के नेतृत्व में पार्टी ने 34 साल बाद लेफ्ट की सरकार को उखाड़ फेंका. इसके बाद से लेकर अब तक ममता लगातार दो बार बंगाल की मुख्यमंत्री बन चुकी हैं. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या दीदी इस बार जीत की हैट्रिक लगाएंगी या फिर बंगाल में भगवा लहराएगा.

Tags: 2021 WEST BENGAL ASSEMBLY ELECTIONS, BJP, CM Shivraj Singh Chouhan, Kamal nath

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर