• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • जीतू पटवारी के बयान पर जीतू जिराती का जवाब: कमलनाथ को बाता दिया 'शोले का गब्बर'

जीतू पटवारी के बयान पर जीतू जिराती का जवाब: कमलनाथ को बाता दिया 'शोले का गब्बर'

जीतू पटवारी के बयान पर जीतू जिराती का जवाब: कमलनाथ को बाता दिया 'शोले का गब्बर' . (File)

जीतू पटवारी के बयान पर जीतू जिराती का जवाब: कमलनाथ को बाता दिया 'शोले का गब्बर' . (File)

बीजेपी के पूर्व विधायक और वर्तमान में बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष जीतू जिराती ने कमलनाथ (Kamal Nath) को 'शोले का गब्बर' बता दिया. यह बयान कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी (Jitu Patwari) के बयान के जवाब में दिया गया. जीतू जिराती के बयान ने एक बार फिर राज्य में सियासी गर्मी पैदा करने जुबानी तड़का लगाया है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की सियासत में फिल्म शोले के 'डाकू गब्बर सिंह' के किरदार की चर्चा शुरू हो गई है. यह इसलिए क्योंकि बीजेपी के पूर्व विधायक और वर्तमान में बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष जीतू जिराती (Jitu Jirati) ने कमलनाथ (Kamal Nath) को 'शोले का गब्बर' बता दिया. यह बयान कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी के बयान के जवाब में दिया गया. हालांकि और 'गब्बर' कौन है ये तो जनता को तय करना है, लेकिन जीतू जिराती के बयान ने एक बार फिर राज्य में सियासी गर्मी पैदा करने जुबानी तड़का लगाया है.

दरअसल, राजधानी भोपाल में कांग्रेस के मीडिया प्रभारी और राऊ से कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि कमलनाथ से पूरी भाजपा डरती है, इसी बयान पर पलटवार करते हुए बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष जीतू जिराती ने अब कमलनाथ की तुलना 'गब्बर सिंह' से कर डाली और पटवारी के बयान पर करारा प्रहार किया. जिराती ने कहा कि भाजपा के कमलनाथ से डरने की बात तो ठीक ही है, पूरे प्रदेश की जनता कमलनाथ से डरती है. जैसे शोले फिल्म में 'गब्बर सिंह' डॉयलॉग मारता था कि यहां से कोस कोस भर दूर मां बेटे से कहती कि सो जा नहीं तो गब्बर सिंह आ जाएगा. इसी तरह राज्य की जनता कमलनाथ से डरती है कि फिर कहीं वे दोबारा ना आ जाएं. आप इसी तरह डराते रहो और हम लोग आराम से जनता की सेवा करते रहेंगे.

गौरतलब है कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने का मुद्दा उछालते हुए मौजूदा शिवराज सरकार को कठघरे में खड़ा किया था. कमलनाथ ने कहा था कि कांग्रेस की सरकार ने 27 फीसदी आरक्षण ओबीसी के लिए कर दिया था, लेकिन बीजेपी की सरकार आने के बाद उसने इस आरक्षण को आगे बढ़ाने का काम नहीं किया. यही वजह रही कि अभी भी ओबीसी वर्ग इस आरक्षण से वंचित है. इसी का जवाब देने के लिए बीजेपी राज्य के प्रत्येक जिले में अपने ओबीसी वर्ग के नेताओं से प्रेस कांफ्रेस करा रही है.

इसी कड़ी में इंदौर के बीजेपी कार्यालय पर प्रदेश उपाध्यक्ष जीतू जिराती की प्रेस वार्ता की जिसमें उन्होने 43 सांसदों की मंत्री पद की शपथ में 27 ओबीसी के 27 सांसदों को मंत्री बनाने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार जताया. इसी दौरान मीडिया के सवालों का जवाब देते वक्त उन्होने कमलनाथ की तुलना गब्बर सिंह से कर दी. इस बयान के बाद कांग्रेस भड़की हुई है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज