MP बोर्ड: 10वीं का रिजल्ट जून में तो 12वीं का जुलाई में होगा जारी
Bhopal News in Hindi

MP बोर्ड: 10वीं का रिजल्ट जून में तो 12वीं का जुलाई में होगा जारी
माध्यमिक शिक्षा मंडल

मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल 10वीं (Tenh Board Result) और 12वीं बोर्ड के रिजल्ट (Twelve Board result) जारी करने की तैयारी में जुटा हुआ है. जून के दूसरे हफ्ते में दसवीं और 12वीं बोर्ड का रिजल्ट जुलाई में घोषित किया जाएगा.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) का माध्यमिक शिक्षा मंडल 10वीं बोर्ड रिजल्ट (Tenth Board Result) जून में घोषित करने की तैयारी कर रहा है. जून महीने के दूसरे हफ्ते में दसवीं कक्षा का रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा. वहीं 12वीं बोर्ड का रिजल्ट (Twelve Board Result) जुलाई के महीने में घोषित किया जाएगा.

10वीं और 12वीं का रिजल्ट अलग-अलग होगा जारी

लॉक डाउन होने के चलते 10वीं और 12वीं के पेपर स्थगित हुए थे. दसवीं की स्थगित दो परीक्षाओं को निरस्त कर दिया गया है. वहीं कक्षा बारहवीं के स्थगित पेपर के लिए नई तारीखों का ऐलान किया गया है. दसवीं की कॉपियों का मूल्यांकन कार्य भी लगभग पूरा होने पूरा होने जा रहा है. माध्यमिक शिक्षा मंडल के सचिव का कहना है कि सारी तैयारियां पूरी होने के बाद जून के दूसरे हफ्ते यानी 14 से 15 जून तक दसवीं का रिजल्ट घोषित किया जा सकता है. कक्षा 12वीं का रिजल्ट जुलाई के महीने में घोषित किया जाएगा. मध्य प्रदेश में ऐसा पहली बार हो रहा है जब दोनों कक्षाओं का रिजल्ट अलग-अलग जारी किया जाएगा. 10वीं और 12वीं के रिजल्ट में एक महीने या 15 दिन का अंतर रहेगा. इससे पहले दसवीं और बारहवीं का रिजल्ट एक साथ ही घोषित होता रहा है.



कॉपियों का हो रहा है मूल्यांकन



हर जिले में लॉक डाउन से पहले ली गई परीक्षाओं की कॉपियों का मूल्यांकन कार्य सुचारू रूप से चल रहा है. कॉपियों के मूल्यांकन का कार्य 25 अप्रैल से शुरू किया गया था. 30 साल बाद शिक्षकों को घर पर ही कॉपियां चेक करने के लिए दी गई थी. उसके बाद परीक्षा केंद्रों पर डिप्टी वैल्यूवर की मौजूदगी में कॉपियों पर नंबर चढ़ाए गए हैं. कॉपियों का मूल्यांकन तीन चरणों में किया जाना है. 10वीं कक्षा की 70 फ़ीसदी और 12वीं कक्षा की 30 फीसदी कॉपियों का मूल्यांकन कार्य पूरा हो चुका है. 10वीं और 12वी की एक करोड़ 33 लाख कॉपियों का मूल्यांकन पूरा किया जाना है.

दसवीं के स्थगित पेपर किए गए निरस्त

दसवीं के दो स्थगित पेपर अब नहीं लिए जाने का फैसला हुआ है. दो विषयों की स्थगित परीक्षाओं के ना लिए जाने से रिजल्ट घोषित करने में आसानी होगी क्योंकि दसवीं की कॉपियों का पहले से मूल्यांकन कार्य शुरू हो चुका है. 21 मार्च को स्थगित हुई परीक्षा के विषय में यह फैसला लिया गया है कि अब वे स्थगित पेपर नहीं लिए जाएंगे. मतलब यह कि जो परीक्षाएं रह गई थीं अब आयोजित नहीं की जाएंगी. दसवीं के जो पेपर हो चुके हैं उनकी परफॉर्मेंस यानी नंबर के आधार पर स्थगित विषयों में नंबर दे दिए जाएंगे और उनके नंबर के आधार पर ही रिजल्ट तैयार किया जाएगा. जो पेपर नहीं हो सके हैं उनके आगे पास लिखा जाएगा.

12वीं की परीक्षाएं 9 जून से

कक्षा बारहवीं की स्थगित परीक्षाओं के के लिए नई तारीखों का ऐलान किया गया है. 9 जून से 16 जून तक कक्षा 12वीं की परीक्षा ली जाएंगी. प्रदेश भर में 3657 परीक्षा केंद्रों पर करीब साढ़े सात लाख से ज्यादा परीक्षार्थी शामिल होंगे. माध्यमिक शिक्षा मंडल ने परीक्षार्थियों के लिए यह सुविधा भी दी है कि जो भी परीक्षार्थी लॉक डाउन में जिस जिले में रह रहा है वह वहीं से उन नए परीक्षा केंद्रों से परीक्षा दे सकेंगे...

17 मई को सीएम ने की तारीखों की घोषणा

10 वीं और 12 वीं की परीक्षाएं कोरोना महामारी के चलते 21 मार्च से स्थगित थीं. .2 और 3 मार्च से शुरू हुई परीक्षाएं केवल 19 मार्च तक ही चल सकी थी. स्थगित परीक्षाओं को लेकर 17 मई को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की थी कि बच्चों के भविष्य को देखते हुए दसवीं के बचे हुए पेपर नहीं लिए जाएंगे. वहीं 12वीं की परीक्षाएं 9 जून से आयोजित की जाएंगी. 9 जून से 16 जून तक दो पालियों में परीक्षा आयोजित होगी.

ये भी पढ़ें:  MP: असिस्टेंट प्रोफेसर पद पर नियुक्त नहीं हुईं 91 SC-ST-OBC टॉपर महिलाएं

उपचुनाव से पहले BJP को झटका, कमलनाथ की मौजूदगी में कांग्रेसी होंगे प्रेमचंद
First published: May 31, 2020, 1:49 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading