अपना शहर चुनें

States

BSP ने ठोकी निगम मंडल में दावेदारी, किस-किस को एडजस्ट करेंगे शिवराज? 

मध्यप्रदेश में बीएसपी के केवल दो ही विधायक हैं. भिंड से संजीव सिंह और पथरिया से राम बाई.
मध्यप्रदेश में बीएसपी के केवल दो ही विधायक हैं. भिंड से संजीव सिंह और पथरिया से राम बाई.

राम बाई (Ram bai) तो दल बदलने के लिए भी तैयार दिख रही हैं. उन्होंने कहा वो अगला चुनाव बीजेपी (BJP) के टिकट पर लड़ना चाहती हैं.

  • Share this:
भोपाल.मध्यप्रदेश में कांग्रेस (Congress) की सरकार गिरने के वक्त से बीजेपी के साथ खड़ी बीएसपी (BSP) ने अब उपचुनाव के नतीजों के बाद निगम मंडलों के लिए अपनी दावेदारी ठोक दी है. बीएसपी विधायक राम बाई ने कहा है कि उन्हें भरोसा है कि उन्हें निगम मंडल में कोई ना कोई पद जरूर दिया जाएगा. राम बाई तो दल बदलने के लिए भी तैयार दिख रही हैं. उन्होंने कहा वो अगला चुनाव बीजेपी के टिकट पर लड़ना चाहती हैं.

राम बाई ने न्यूज़ 18 से  कहा जब बीजेपी को जरूरत थी तब बीएसपी के विधायकों ने उसका साथ दिया. अब उन्हें पूरा भरोसा है कि बीजेपी उस भरोसे को कायम रखेगी. उन्हें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, बीजेपी चुनाव प्रबंध समिति के संयोजक रहे भूपेंद्र सिंह और गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा पर पूरा भरोसा है.  उन्हें मंत्री बनने की उम्मीद नहीं है लेकिन बहुमत में आने के बावजूद बीजेपी उनके भरोसे को कायम रखेगी और निगम मंडल में उन्हें कोई पर जरूर दिया जाएगा.इतना ही नहीं राम बाई ने यह इच्छा भी जाहिर की है कि वह अपना अगला चुनाव बीजेपी के टिकट पर ही लड़ें.

क्या बीजेपी कायम रखेगी भरोसा ?
राम बाई की इस डिमांड पर सरकार की ओर से प्रतिक्रिया भी सामने आई है. शिवराज सरकार में कैबिनेट मंत्री मोहन यादव ने कहा हमारी पार्टी एक उदार पार्टी है. जो हमारे साथ रहता है हम उसका ध्यान रखते हैं. निश्चित ही पार्टी रामबाई का भी ख्याल रखेगी. ऐसे में अब सवाल यह खड़ा हो रहा है कि आखिर जब निगम मंडल में नियुक्तियों की बारी आएगी तो फिर उस कतार में बीजेपी, सिंधिया समर्थकों और निर्दलीयों के अलावा क्या बीएसपी और एसपी के विधायक भी नज़र आएंगे.



चुनाव से पहले चुनाव के बाद बीएसपी, बीजेपी के साथ
मध्यप्रदेश में बीएसपी के केवल दो ही विधायक हैं. भिंड से संजीव सिंह और पथरिया से राम बाई. उप चुनाव से ठीक पहले संजीव सिंह ने भोपाल में बीजेपी चुनाव प्रबंध समिति के संयोजक भूपेंद्र सिंह से  मुलाकात की थी. तब उन्होंने यह बयान दिया था कि बीएसपी चुनाव नतीजों के बाद भी बीजेपी सरकार को ही समर्थन देगी. हालांकि चुनाव नतीजों में बीजेपी 19 सीट जीतकर पूर्ण बहुमत के साथ अब सरकार में हैं. ऐसे में देखना होगा कि आखिर वो रामबाई को कितनी तवज्जो देती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज