MP by Election 2020 : अंबाह सीट पर नहीं चलता जाति का जादू, प्रत्याशी की छवि पर लगती है मुहर

अंबाह सीट पर कुल 2,18,428 मतदाता हैं
अंबाह सीट पर कुल 2,18,428 मतदाता हैं

MP Assembly By-Election: अंबाह सीट पर दल और उसके प्रत्याशी (Candidate) की छवि काम करती है. यहां शिक्षा (Education) और रोजगार अहम मुद्दा हैं.पिछले चुनाव में कमलेश जाटव 7,547 वोटों से जीते थे। वहीं निर्दलीय चुनाव लड़ीं नेहा किन्नर दूसरे स्थान पर रहीं.

  • Share this:
भोपाल. मुरैना (Morena) जिले की तीन सीटों हार-जीत के लिए अलग-अलग समीकरण हैं. मुरैना और दिमनी में जाति हावी है तो अंबाह विधानसभा सीट पर जातिगत समीकरण का जादू नहीं चलता.यहां पार्टी और उसके प्रत्याशी (Candidate) की छवि पर वोटर अपनी मुहर लगाते हैं. इस बार यहां चुनाव मैदान में बीजेपी से कमलेश जाटव और कांग्रेस से सत्यप्रकाश सखवार हैं.

अंबाह विधानसभा सीट में घमासान तेज हो गया है.यहां कुल 2,18,428 मतदाता हैं. इसमें पुरुष मतदाता 117844, महिला मतदाता 100577 और अन्य 7 हैं. यह सीट एससी के लिए आरक्षित है.
अंबाह का जातिगत समीकरण
-हरिजन 40 हजार
-ठाकुर 32 हजार
-वैश्य 25 हजार


ब्राह्मण - 25 हजार

नहीं चलता जातिगत समीकरण
इस सीट पर जातीय समीकरण काम नहीं करता है.यहां पर दल और उसके प्रत्याशी की छवि काम करती है. यहां शिक्षा और रोजगार अहम मुद्दा है.पिछले चुनाव में कमलेश जाटव 7,547 वोटों से जीते थे। वहीं निर्दलीय चुनाव लड़ीं नेहा किन्नर दूसरे स्थान पर रहीं. मज़ेदार बात ये है कि बीजेपी तीसरे स्थान पर थी. यह सीट नरेंद्र सिंह तोमर के प्रभाव वाली मानी जाती है. लेकिन पिछले कुछ समय से उनका असर कम हुआ है. अंबाह विधानसभा सीट अनुसूचित जाति के लिए सुरक्षित है. बीजेपी प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल का कहना है जातिगत समीकरण का ध्यान रखा जाता है.लेकिन पार्टी सबका साथ सबका विकास में विश्वास रखती है. इसलिए समीकरण अपनी जगह है. हमारे सभी उम्मीदवार परफेक्ट हैं.

कांग्रेस ने कही ये बात
इस सीट को लेकर कांग्रेस नेता भूपेंद्र गुप्ता ने कहा पार्टी से गद्दारी करने वाले लोगों को जनता सबक सिखाएगी. इस सीट पर भी ऐसा ही होगा.बड़े-बड़े नेता इस सीट पर अपनी पार्टी प्रत्याशी के समर्थन में प्रचार के लिए आ रहे हैं. लेकिन जीत हमारे प्रत्याशी की होगी. उन्होंने यह भी बताया कि जनता जान चुकी है उसे चुनाव में किसे जिताना है.पिछले चुनाव में कमलेश जाटव 7,547 वोटों से जीते थे। वहीं निर्दलीय चुनाव लड़ीं नेहा किन्नर दूसरे स्थान पर रहीं
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज