MP by Election : मतगणना के लिए बीजेपी सतर्क, शिवराज ने कहा-अलर्ट रहें कार्यकर्ता

mp की 28 सीटों के लिए 3 नवंबर को मतदान और 10 को मतगणना होगी.
mp की 28 सीटों के लिए 3 नवंबर को मतदान और 10 को मतगणना होगी.

विधानसभा उपचुनाव (By Election) के बाद मैजिक फिगर के लिहाज से बीजेपी (BJP) को बहुमत के लिए सिर्फ 8 सीटों की जरूरत है वही कांग्रेस को सभी 28 में से 28 सीट बहुमत के लिए जीतनी हैं.

  • Share this:
भोपाल.मध्य प्रदेश (MP) की 28 विधानसभा (Assembly) की 28 सीटों के लिए पड़े वोटों की गिनती 10 नवंबर को होना है.  नतीजों से पहले बीजेपी सतर्क हो गई है. प्रदेश मुख्यालय में शनिवार को एक अहम बैठक हुई.इसमें सभी उपचुनाव वाले जिलों के जिलाध्यक्ष विधान सभा सीटों के प्रभारी, सह प्रभारी, और विस्तारकों को बुलाया गया था. बैठक मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत ने ली.

करीब 2 घंटे तक चली इस बैठक में न केवल विधानसभा सीटों पर हुए चुनाव की रिपोर्ट ली गई, बल्कि 10 नवंबर को होने वाली मतगणना की तैयारी की समीक्षा भी की गई. बैठक में मौजूद पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि 3 तारीख को हुआ मतदान जितना महत्वपूर्ण था. 10 नवंबर को होने वाली मतगणना भी उतनी ही महत्वपूर्ण है. लिहाजा सभी को पूरी तैयारी के साथ इस काम में जुटना है.

कांग्रेस पर निशाना
बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. शर्मा ने कहा बीजेपी 10 नवंबर के बाद प्रदेश के विकास के रोड मैप की तैयारी कर रही है. वहीं कांग्रेस 11 नवंबर को विधायक दल की बैठक बुलाकर विपक्ष का नेता चुनने की तैयारी कर रही है. उन्होंने  ईवीएम और प्रशासनिक मशीनरी में गड़बड़ी के कांग्रेस के आरोपों पर कहा कांग्रेस अपनी हार को सामने देखकर हताश हो गई है. उसके यह हथकंडे अब काम नहीं आएंगे क्योंकि जनता बीजेपी के साथ खड़ी है.



10 को नतीजों का इंतज़ार
मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा सीटों के लिए हुए  उपचुनाव में 3 नवंबर को वोट डाले गए थे और अब नतीजे 10 नवंबर को सामने आएंगे. एक तरफ जहां कांग्रेस यह दावा कर रही है कि वह 28 में से 28 सीट पर जीत दर्ज कर रही है तो वहीं बीजेपी का दावा है कि मध्य प्रदेश में बीजेपी की सरकार है और 10 तारीख के बाद भी बीजेपी की ही सरकार रहेगी. विधानसभा उपचुनाव के बाद मैजिक फिगर के लिहाज से बीजेपी को बहुमत के लिए सिर्फ 8 सीटों की जरूरत है वही कांग्रेस को सभी 28 में से 28 सीट बहुमत के लिए जीतनी हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज