MP by Election : CM शिवराज और उनके मंत्री के खिलाफ चुनाव आयोग पहुंची कांग्रेस, जानें पूरा मामला

कांग्रेस ने इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह को भी हटाने की मांग की है.
कांग्रेस ने इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह को भी हटाने की मांग की है.

कांग्रेस (Congress) ने आरोप लगाया है इंदौर (Indore) में सरकार के चहेते अफसर नियुक्त हैं. निष्पक्ष चुनाव के लिए अफसरों को वहां से हटाया जाना चाहिए.

  • Share this:
भोपाल. प्रदेश कांग्रेस (MPPC) ने आज सीएम शिवराज (Shivraj) सहित अनूपपुर से बीजेपी उम्मीदवार और सरकार में मंत्री बिसाहूलाल सिंह के खिलाफ चुनाव आयोग (Election Commission) में शिकायत कर दी. कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि आचार संहिता का उल्लंघन करते हुए सीएम और उनके मंत्री काम कर रहे हैं. कांग्रेस ने इंदौर कलेक्टर को भी हटाने की मांग आयोग से की है.

शिवराज सिंह चौहान  की शिकायत
कांग्रेस ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का एक वीडियो आयोग को सौंपा है. इसमें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जल संसाधन विभाग के तहत बांध जलाशय का लोकार्पण करने की शिकायत है. कांग्रेस के मुताबिक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कार्यों का लोकार्पण दिखाकर आम लोगों को गुमराह किया जा रहा है, जो आचार संहिता का उल्लंघन है.

बिसाहूलाल बांट रहे हैं पैसा
अपनी शिकायत में कांग्रेस ने कहा अनूपपुर से बीजेपी प्रत्याशी और मंत्री बिसाहूलाल सिंह आम मतदाताओं को एक आवेदन का प्रोफार्मा बांट रहे थे. उसमें इस बात का जिक्र है कि कोरोना महामारी के कारण आर्थिक स्थिति खराब होने पर  स्वेच्छा अनुदान की राशि दी जाएगी.इसके लिए मतदाताओं से खाता नंबर, आईएफएससी कोड, बैंक का नाम और प्रार्थी का नाम पता मांगा जा रहा है. कांग्रेस का आरोप है कि इस तरह के हजारों आवेदन बांटे गए. और आवेदन भर कर दफ्तर में जमा कराए जा रहे हैं. आवेदन करने वाले लोगों के खाते में 15 -15 हजार की राशि जमा हो रही है. वो मंत्री की स्वेच्छा अनुदान की राशि है. कांग्रेस का आरोप है कि उपचुनाव में मतदाताओं को पैसे बांट कर उन्हें प्रलोभन देकर आचार संहिता का उल्लंघन किया जा रहा है. कांग्रेस ने चुनाव आयोग से इस पूरे मामले में जांच कराकर जरूरी कार्रवाई करने की मांग की है.



इंदौर कलेक्टर को हटाने की मांग
कांग्रेस ने इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह, एडीएम और नगर निगम कमिश्नर को भी हटाने की मांग की है. कांग्रेस ने आरोप लगाया है इंदौर में सरकार के चहेते अफसर नियुक्त हैं. निष्पक्ष चुनाव के लिए अफसरों को वहां से हटाया जाना चाहिए.कुल मिलाकर कांग्रेस ने आज बड़ी शिकायतें कर चुनाव आयोग से हस्तक्षेप की मांग की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज