MP उपचुनाव : ग्वालियर-चंबल की 16 सीटों पर जीत के लिए कांग्रेस ने कमर कसी, ये होगी रणनीति
Bhopal News in Hindi

MP उपचुनाव : ग्वालियर-चंबल की 16 सीटों पर जीत के लिए कांग्रेस ने कमर कसी, ये होगी रणनीति
पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा के आवास पर कांग्रेस की बैठक हुई. (फाइल फोटो)

13 जुलाई को पीतांबरा पीठ पर दर्शन के साथ चुनाव प्रचार अभियान का आगाज होगा. कांग्रेस पार्टी ने ग्वालियर चंबल (Gwalior Chambal) इलाके में जातीय समीकरणों को साधने के लिए हर वर्ग के नेता को शामिल करने का प्लान बनाया है.

  • Share this:
भोपाल. प्रदेश की 24 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव (By-election) में कांग्रेस (Congress) पार्टी ने ग्वालियर चंबल (Gwalior Chambal) इलाके की 16 सीटों पर जीत तलाशने का फार्मूला ईजाद किया है. बीजेपी (BJP) नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के गढ़ को भेदने के लिए कांग्रेस के दिग्गज नेता एक बस पर सवार होकर लगातार 5 दिन तक 16 सीटों पर घूम-घूमकर कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाने का काम करेंगे. इसके लिए आज कांग्रेस पार्टी की एक गोपनीय बैठक हुई.

पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा (Sajjan Singh Verma) के निवास पर हुई बैठक में ग्वालियर चंबल के नेताओं के अलावा अजय सिंह, अरुण यादव, रामनिवास रावत, आरिफ अकील भी शामिल हुए. बैठक में जो कार्यक्रम तय हुआ है उसके मुताबिक, कांग्रेस पार्टी ग्वालियर चंबल इलाके की 16 सीट पर माहौल बनाने के लिए 13 जुलाई से चुनाव प्रचार अभियान पर निकलेगी. कांग्रेस के नेता एक साथ एक बस पर सवार होकर ग्वालियर चंबल इलाकों में घूमने का काम करेंगे. 13 जुलाई को पीतांबरा पीठ पर दर्शन के साथ चुनाव प्रचार अभियान का आगाज होगा. कांग्रेस के इस प्रचार अभियान में कांग्रेस नेता सज्जन सिंह वर्मा, एनपी प्रजापति, डॉक्टर गोविंद सिंह, केपी सिंह, अशोक सिंह, अरुण यादव, अजय सिंह, आरिफ अकील, लाखन सिंह यादव, फूल सिंह बरैया शामिल होंगे.

कांग्रेस का प्रचार अभियान



13 जुलाई को कांग्रेस के नेता भांडेर, मेह गांव, गोहद में चुनाव प्रचार करेंगे.
14 जुलाई को सुमावली, जौरा, मुरैना में चुनाव प्रचार होगा.
15 जुलाई को दिमनी अंबाह में प्रचार होगा.
16 जुलाई को डबरा, करैरा, पोहरी में कांग्रेस नेता जाएंगे.
17 जुलाई को अशोकनगर जिले के अशोकनगर, मुंगावली और बम्होरी में चुनाव प्रचार होगा.

जातीय समीकरणों पर है कांग्रेस की निगाह

कांग्रेस पार्टी ने ग्वालियर चंबल इलाके में जातीय समीकरणों को साधने के लिए हर वर्ग के नेता को शामिल करने का प्लान बनाया है. यादव वोटों को साधने के लिए अरुण यादव और लाखन सिंह यादव, ठाकुर वोटों को साधने के लिए अजय सिंह और डॉक्टर गोविंद सिंह, अनुसूचित जाति के वोटों को साधने के लिए फूल सिंह बरैया और मुस्लिम वोटों को साधने के लिए आरिफ अकील शामिल होंगे.

क्यों अहम है ग्वालियर चंबल इलाका

प्रदेश की 24 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में ग्वालियर चंबल का इलाका सबसे महत्त्वपूर्ण है. 24 सीटों में से सबसे ज्यादा 16 सीटें इसी अंचल से निकलकर आती हैं और ऐसे में सिंधिया के गढ़ में पार्टी की पैठ मजबूत करने के लिए कांग्रेस के नेता प्रचार अभियान में जुटने का काम करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading