MP उपचुनाव: कमलनाथ को चुनाव आयोग की हिदायत, 'आइटम' जैसे शब्दों से करें परहेज

उधर बीजेपी लगातार कमलनाथ की ओर से इमरती देवी को आइटम कहने पर हमलावर है. (फाइल फोटो)
उधर बीजेपी लगातार कमलनाथ की ओर से इमरती देवी को आइटम कहने पर हमलावर है. (फाइल फोटो)

चुनाव आयोग के संज्ञान में यह मामला आने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया था. आयोग ने कमलनाथ से 48 घंटे के भीतर जवाब मांगा था.

  • Share this:
भोपाल. डबरा से भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी और प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी सुमन (Imrati Devi Suman) के लिए आइटम शब्द (Item Words) का इस्तेमाल करने पर चुनाव आयोग (Election commission) ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को हिदायत दी है. आयोग की ओर से कहा गया है कि चुनाव आचार संहिता के दौरान उन्हें इस तरह के शब्दों और भाषा का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए. आपको बता दें कि इससे पहले डबरा में एक सभा के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) में इमरती देवी को आइटम कह कर संबोधित किया था. उनके इस बयान के बाद बीजेपी कमलनाथ और कांग्रेस पर हमलावर हो गई थी. बीजेपी की ओर से इस मामले में चुनाव आयोग से भी शिकायत दर्ज कराई गई थी. बीजेपी ने मामले में कमलनाथ पर कार्रवाई करने की मांग की थी.

आयोग ने दिया था नोटिस
चुनाव आयोग के संज्ञान में यह मामला आने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया था. आयोग ने कमलनाथ से 48 घंटे के भीतर जवाब मांगा था. वहीं, कमलनाथ की ओर से पेश किए गए जवाब में यह कहा गया था कि उनका लंबा राजनीतिक अनुभव है और उनकी मंशा आइटम शब्द का इस्तेमाल करने में किसी महिला के सम्मान को ठेस पहुंचाना नहीं था. आयोग ने कमलनाथ के इस जवाब का परीक्षण किया और फिर उसके बाद उन्हें हिदायत जारी की गई.

बीजेपी करा रही कैश
उधर बीजेपी लगातार कमलनाथ की ओर से इमरती देवी को आइटम कहने पर हमलावर है. पूरे चुनाव में बीजेपी यह मुद्दा उठा रही है कि कमलनाथ ने एक अनुसूचित जाति वर्ग की महिला का अपमान किया है. कमलनाथ के लिए मुश्किल की बात यह है कि इससे पहले खुद उनके राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी भी यह कह चुके हैं कि कमलनाथ को इस तरह की भाषा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए था. हालांकि, कमलनाथ ने इसे राहुल गांधी की निजी राय बताई थी. कमलनाथ अपने बयान पर खेद जरूर जता चुके हैं लेकिन उन्होंने माफी नहीं मांगी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज