MP By Election Result 2020 : 19 जिलों में मतगणना, 5-5 व्हीव्हीपेट स्लिप की भी गिनती होगी

मतगणना में जिन मशीनों का कंट्रोल यूनिट डिस्प्ले नहीं कर रहा है रिटर्निंग अधिकारी उन्हें एक तरफ रख देंगे बाकी मशीनों की मतगणना जारी रहेगी.
मतगणना में जिन मशीनों का कंट्रोल यूनिट डिस्प्ले नहीं कर रहा है रिटर्निंग अधिकारी उन्हें एक तरफ रख देंगे बाकी मशीनों की मतगणना जारी रहेगी.

पहले डाक मतपत्रों की मतगणना (Counting) पूरी नहीं होने पर EVM की मतगणना का अंतिम राउंड रोक दिया जाता था. लेकिन इस बार यह नियम हटा दिया गया है. डाक मतपत्रों और ईव्हीएम मशीनों की मतगणना लगातार चलती रहेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 10, 2020, 7:57 AM IST
  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश विधानसभा उप  चुनाव 2020 (Madhya Pradesh by election 2020 )की मतगणना के लिए चुनाव आयोग (Election commission) ने व्यापक इंतज़ाम किए हैं. प्रदेश के 19 जिलों के 28 विधानसभा क्षेत्रों में हुए उप चुनाव के लिये 3 नवम्बर को मतदान हुआ था. मतगणना आज 10 नवम्बर को सुबह 8 बजे से संबंधित जिला मुख्यालयों पर हो रही है. मतगणना भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश और कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन करते हुए पूरी सुरक्षा व्यवस्था के साथ की जा रही है.

उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी प्रमोद शुक्ला ने बताया कि इस बार कोविड-19 की गाइड लाइन को ध्यान में रखते हुए प्रत्येक राउंड में 14-14 टेबिल होंगी. राजगढ़ में एक हॉल में 14 टेबल, गुना में 3 हॉल में से एक हॉल में 6 और 2 हॉल में 4-4 टेबल और शेष 17 जिलों में दो हॉल में 7-7 टेबल पर मतगणना की जा रही है. प्रत्येक हॉल की प्रत्येक राउण्ड से की गई दो टेबल की मतगणना की जांच आयोग के प्रेक्षक करेंगे.

इस बार बदला ये नियम
मतगणना प्रात: 8 बजे डाक मतपत्रों की गणना के साथ शुरू हो रही है. ईव्हीएम मशीनों की मतगणना प्रात: 8:30 बजे शुरू होगी. पहले डाक मतपत्रों की मतगणना पूरी नहीं होने पर ईव्हीएम मशीनों की मतगणना का अंतिम राउंड रोक दिया जाता था. लेकिन इस बार यह नियम हटा दिया गया है. डाक मतपत्रों और ईव्हीएम मशीनों की मतगणना लगातार चलती रहेगी.
एक नियम ये भी


मतगणना में जिन मशीनों का कंट्रोल यूनिट डिस्प्ले नहीं कर रहा है रिटर्निंग अधिकारी उन्हें एक तरफ रख देंगे बाकी मशीनों की मतगणना जारी रहेगी. यदि प्रत्याशियों की जीत-हार का अंतर डिस्प्ले नहीं होने वाली कंट्रोल यूनिट के मतों से अधिक है तो उसे मतगणना में न लेकर परिणाम घोषित किया जाएगा. इसी तरह यदि अंतर कम है या बराबर है तो मतों की गणना व्हीव्हीपेट से नियमानुसार की जाएगी.

कोरोना गाइड लाइन का पालन
मतगणना केन्द्र पर सेनेटाइजर की व्यवस्था जिला प्रशासन की ओर से की गयी है. मतगणना के दौरान कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन किया जाएगा. मतगणना के पूर्व अभ्यर्थियों की उपस्थिति में स्ट्राँग रूम खोला गया. स्ट्राँग रूम खोलने, मशीनों को निकालते समय कॉरिडोर एवं मतगणना कक्ष का लगातार सीसीटीव्ही कव्हरेज किया जा रहा है. मतगणना के बाद मेन्डेटेरी व्हीव्हीपेट की गणना में रेण्डमली चयनित 5-5 व्हीव्हीपेट की स्लिप की भी गणना कर सत्यापन किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज