अपना शहर चुनें

States

MP : नगरीय निकाय चुनाव में भी कांग्रेस सर्वे का फॉर्मूला अपनाएगी, जिताऊ चेहरा चाहिए

कांग्रेस का सर्वे 2019 के लोकसभा और 2020 के विधानसभा उपचुनाव में फेल हो चुका है.
कांग्रेस का सर्वे 2019 के लोकसभा और 2020 के विधानसभा उपचुनाव में फेल हो चुका है.

छोटे शहरों के चुनाव में बड़ी जीत की उम्मीद लगाकर बैठी कांग्रेस को अपने सर्वे पर भरोसा है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ नगरीय निकाय चुनाव को भी पूरी गंभीरता से लेते हुए हर स्तर की तैयारी अभी से पूरी कर लेना चाहते हैं.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (MP) में होने वाले नगरीय निकाय चुनाव से पहले कांग्रेस (Congress) पुराने फॉर्मूले को आजमाने की कोशिश में जुट गई है. 2018- 2019 और उसके बाद 2020 के 28 विधानसभा सीट के उपचुनाव में कांग्रेस ने सर्वे के आधार पर उम्मीदवारों को टिकट दिया था. 2018 के चुनाव में कांग्रेस का यह फॉर्मूला सफल साबित हुआ था. लेकिन उसके बाद 2019 और 2020 के उपचुनाव में बीजेपी की प्लानिंग भारी पड़ गयी.

2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को मात्र एक सीट और 2020 में 28 विधानसभा सीट चुनाव में सिर्फ 9 सीट पर ही जीत हासिल हो सकी. फिर भी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ पुराना फॉर्मूला ही नगरी निकाय चुनाव में आजमाने की तैयारी में हैं. कांग्रेस पार्टी ने नगरी निकाय चुनाव में उम्मीदवारों की तलाश में सर्वे शुरू कर दिया है. सिर्फ पार्टी निजी एजेंसियों से ही नहीं बल्कि पार्टी स्तर पर भी सर्वे करा रही है. साथ ही पर्यवेक्षकों को नगरीय निकाय में भेज कर वहां के स्थानीय मुद्दों और जिताऊ उम्मीदवार की सूची तैयार करने के निर्देश दिए हैं.

पहले अध्यक्ष और महापौर
कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा का कहना है नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस पार्टी सर्वे के आधार पर ही उम्मीदवार तय करेगी.सर्वे शुरू हो चुका है. पर्यवेक्षकों को भी नगरीय निकाय में भेजा जा रहा है. सर्वे की रिपोर्ट और पर्यवेक्षकों की रिपोर्ट के आधार पर ही उम्मीदवार तय होंगे. फिलहाल पार्टी महापौर और अध्यक्ष पद के लिए सर्वे करा रही है. नगरीय निकाय में परिसीमन, आरक्षण का काम पूरा होने पर ही पार्षद स्तर पर फीडबैक जुटाया जाएगा.
ये आयी प्रतिक्रिया


कांग्रेस नेता अजय सिंह ने कहा है प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ नगरीय निकाय चुनाव की तैयारी में जुट गए हैं. चुनाव की तैयारी के लिए रोज बैठक हो रही हैं. उसी आधार पर पार्टी फैसले लेगी.

बीजेपी ने उड़ाया मज़ाक
बीजेपी प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा कांग्रेस का 2019 और 2020 के उपचुनाव का सर्वे सबके सामने है. हर चुनाव में कांग्रेस पार्टी को जनता ने नकारा है. अब नगरीय निकाय चुनाव में भी सर्वे का सच सामने आएगा. बीजेपी ने तंज कसते हुए कहा चुनावों में हार का ठीकरा अब तक ईवीएम पर फोड़ रही कांग्रेस अब सर्वे एजेंसी के ऊपर फोड़ने की तैयारी में है.

छोटे शहरों में बड़ी जीत की उम्मीद
छोटे शहरों के चुनाव में बड़ी जीत की उम्मीद लगाकर बैठी कांग्रेस को अपने सर्वे पर भरोसा है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ नगरीय निकाय चुनाव को भी पूरी गंभीरता से लेते हुए हर स्तर की तैयारी अभी से पूरी कर लेना चाहते हैं. यही कारण है कि पार्टी नेताओं के साथ बैठक कर रणनीति पर अभी से चर्चा होने लगी है. लेकिन पार्टी के लिए मुश्किल नगरीय निकाय चुनाव में जिताऊ चेहरे की है. यही कारण है कि एक बार फिर कांग्रेस सर्वे और पर्यवेक्षकों की रिपोर्ट के आधार पर आगे बढ़ती नजर आ रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज