MP Corona Update : कोर ग्रुप की बैठक में बताया गया कि घटने लगे हैं संक्रमण के केस

कोर ग्रुप की बैठक में बताया गया कि मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले में कमी आई है.

कोर ग्रुप की बैठक में बताया गया कि मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले में कमी आई है.

रविवार को 24 घंटे में प्रदेश में 12 हजार 652 नए मरीज आए, जबकि 13 हजार 890 मरीज स्वस्थ हुए. इस हिसाब से अब प्रदेश में कोरोना संक्रमण के सक्रिय मरीजों की संख्या 87 हजार 179 रह गई है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार घट रही है - ऐसा सरकारी आंकड़े कह रहे हैं. रविवार को भोपाल में हुई कोर ग्रुप की बैठक में जानकारी दी गई है कि मध्य प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या में कमी आ रही है. पिछले 24 घंटे में प्रदेश में 12 हजार 652 नए मरीज आए, जबकि 13 हजार 890 मरीज स्वस्थ हुए. इस हिसाब से अब प्रदेश में कोरोना संक्रमण के सक्रिय मरीजों की संख्या 87 हजार 179 रह गई है. प्रदेश में रिकवरी रेट 84.2% और मृत्यु दर 1% है. हालांकि संक्रमण के लिहाज से मध्य प्रदेश अभी भी देश में 14वें स्थान पर बना हुआ है.

इन 18 जिलों में 200 से अधिक नए मामले

जिलावार समीक्षा के मुताबिक, प्रदेश के 18 जिलों में 200 से अधिक और 2000 से कम कोरोना के नए मामले आए हैं. इंदौर में 1821, भोपाल में 1678, ग्वालियर में 1072, जबलपुर में 731 रीवा में 346, बैतूल में 328, रतलाम में 325, शिवपुरी में 276, दमोह में 268, उज्जैन में 262, सतना में 257, पन्ना में 249, धार में 233, सागर में 222, सिंगरौली में 216 अनूपपुर में 212, सीहोर में 212 और विदिशा में 209 नए मामले आए हैं.

कहां कितनी पॉजिटिविटी रेट
प्रदेश के 15 जिलों में 7 दिन की औसत पॉजिटिविटी रेट 25% से अधिक है. टीकमगढ़ की 47%, शिवपुरी की 39%, दतिया की 34%, अनूपपुर की 32%, सिंगरौली की 31%, नरसिंहपुर की 31%, सीधी की 31%, कटनी की 30%, ग्वालियर की 29%, निवाड़ी की 27%, सीहोर की 27%, भोपाल की 27%, डिंडोरी की 27%, बैतूल की 26% और मुरैना की 26% पॉजिटिविटी रेट है.

बुरहानपुर की पॉजिटिविटी रेट सबसे कम

कोरोना संक्रमण के मामले में बुरहानपुर जिले की औसत पॉजिटिविटी रेट सबसे कम 3% है. वहीं छिंदवाड़ा की 5%, खंडवा की 6%, भिंड की 10% और अशोकनगर की 11% पॉजिटिविटी रेट है.



ऑक्सीजन की स्थिति

प्रदेश को भारत सरकार की ओर से 589 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का कोटा मिला है, जिसके तहत 1 मई को 456 एमटी, 2 मई को 474 एमटी ऑक्सीजन सप्लाई हुई है. 3 मई को 543 एमटी ऑक्सीजन आने की संभावना है. प्रदेश में 7 नए ऑक्सीजन प्लांट तैयार हो गए हैं, जिनमें से 6 में काम शुरू हो गया है. मई के अंत तक सभी ऑक्सीजन प्लांट चालू होने का दावा किया गया है. भारत सरकार से 11 और ऑक्सीजन प्लांट की प्रदेश को मंजूरी मिली है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज