MP: कोरोना की तीसरी लहर से पहले डेल्टा प्लस वैरिएंट बना मुसीबत, कैसे निपटेंगे ?

आपको बता दें कि डेल्टा प्लस वैरियेंट कोरोना के अब तक के वैरियेंट में सबसे खतरनाक वैरिएंट माना जाता है. (सांकेतिक फोटो)

शिवपुरी (Shivpuri) में जीनोम सिक्वेंसिंग सैम्पल से खुलासा हुआ है कि यहां 4 मरीजों की मौत कोरोना के डेल्टा प्लस वैरिएंट से हुई है.

  • Share this:
भोपाल. कोरोना वायरस (Corona Virus) की तीसरी लहर से पहले कोरोना का डेल्टा प्ल्स वैरिएंट (Delta Plus Variants) मुसीबत बनता दिख रहा है. भोपाल में 65 साल की एक महिला में डेल्टा प्लस वैरिएंट मिलने के बाद अब शिवपुरी में भी इस वैरिएंट की पुष्टि हुई है. शिवपुरी (Shivpuri) में जीनोम सिक्वेंसिंग सैम्पल से खुलासा हुआ है कि यहां 4 मरीजों की मौत कोरोना के डेल्टा प्लस वैरिएंट से हुई है. खास बात ये है कि जिन चार लोगों की मौत डेल्टा प्लस वैरिएंट से हुई उन्हें वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी थीं. आपको बता दें कि डेल्टा प्लस वैरियेंट कोरोना के अब तक के वैरियेंट में सबसे खतरनाक वैरिएंट माना जाता है. भोपाल में 16 जून को एक महिला में ये वैरियेंट मिल चुका है.

हालांकि, राहत की बात ये है कि शिवपुरी में जिन 4 मरीजों की डेल्टा प्लस वैरियेंट से मौत हुई उनकी कॉन्ट्रैक्ट हिस्ट्री में आये बाकी किसी व्यक्ति में कोरोना नहीं पाया गया है और वो लोग स्वस्थ हैं. भोपाल में भी जिस महिला में ये वैरियेंट पाया गया था उसकी कॉन्ट्रैक्ट हिस्ट्री के 25 लोगों में भी ऐसे कोई लक्षण नहीं पाए गए. लेकिन फिर भी स्वाथ्य विभाग लोगों को सतर्क रहने की सलाह दे रहा है.

वैक्सीन से होगा बचाव ?
कोरोना के डेल्टा प्लस वैरियेंट को लेकर स्वास्थ्य विशेषज्ञ फिलहाल लोगों को सावधान रहने की ही सलाह दे रहे हैं. लोगों से ये कहा गया है कि तीसरी लहर से पहले सभी वैक्सीन जरूर करवा लें. एमपी सरकार 21 जून को इसके लिए महाअभियान भी चला रही है. इन दिन 10 लाख लोगों को वैक्सीन लगाने का टारगेट रखा गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.