• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • MP : अमेरिका के 911 के पैटर्न पर काम कर रही डायल 100, पांच साल में की 6 करोड़ लोगों की मदद

MP : अमेरिका के 911 के पैटर्न पर काम कर रही डायल 100, पांच साल में की 6 करोड़ लोगों की मदद

MP में Dial 100 ने डेढ़ लाख लोगों को खुदकुशी करने से रोककर नई जिंदगी दी.

MP में Dial 100 ने डेढ़ लाख लोगों को खुदकुशी करने से रोककर नई जिंदगी दी.

MP Dial 100 : पिछले 5 साल में डायल 100 (Dial 100) ने छह करोड़ लोगों की जान बचाई है. डेढ़ लाख लोग जो खुदकुशी करने निकले थे लेकिन डायल 100 ने सबको बचाकर नई जिंदगी दे दी. इसके अलावा जन्म के बाद सड़क और झाड़ियों में फेंके गए करीब 1200 नवजातों की सुरक्षा भी इसी डायल 100 ने की.

  • Share this:

भोपाल. मध्य प्रदेश की आवाम के लिए डायल 100 (Dial 100) अब तक की सबसे बड़ी मददगार साबित हुई है. अमेरिका के 911 नंबर के पैटर्न पर डायल 100 काम कर रही है. इससे एक जगह पर मल्टीपल हेल्प मिल रही है. पिछले 5 साल में छह करोड़ लोगों की इसने मदद की है. करीब डेढ़ लाख लोग ऐसे हैं जो खुदकुशी (Suicide)  करने जा रहे थे उन्हें भी डायल 100 ने बचा लिया. कोविड काल और महिला अपराधों में भी जनता के लिए डायल 100 देवदूत बनी.

डायल 100 (Dial 100) आपराधिक नहीं बल्कि सामाजिक भूमिका भी बखूबी निभा रही है. ये लोगों के बीच मददगार के तौर पर पहचान बना चुकी है.

एमपी पुलिस के दूरसंचार से मिले आंकड़े के अनुसार, एक नवंबर 2015 से 31 जुलाई 2021 तक पांच करोड़ 96 लाख मदद की सूचनाएं पहुंची हैं. डायल 100 ने इनकी मदद भी की. साथ ही मध्‍य प्रदेश पुलिस की मुस्‍तैद टीम ने आपात स्थिति में एक करोड़ 18 लाख लोगों तक सुविधाएं भी पहुंचाईं. इसी अवधि में एक लाख 35 हजार ऐसे भी लोग थे जो खुदकुशी करने निकले थे लेकिन डायल 100 ने सबको बचाकर नई जिंदगी दे दी. इसके अलावा जन्म के बाद सड़क और झाड़ियों में फेंके गए करीब 1200 नवजातों की सुरक्षा भी इसी डायल 100 ने की.

ये भी पढ़ें- Betul : वैक्सीनेशन टीम से युवक बोला-जाओ पहले CM शिवराज का टीका लगाने का सबूत लेकर आओ…

महिलाओं की हिफाजत
महिला अपराधों में भी डायल 100 ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. महिलाओं पर होने वाले अत्याचारों की सूचना मिलने पर तत्काल इस टीम ने मदद पहुंचाई. महिलाओं पर होने वाले अपराधों की 10 लाख 92 हजार सूचनाएं डायल 100 को मिलीं. जिसमें टीम ने उनकी मदद की. सड़क दुर्घटनाओं के मामले में सात लाख 10 हजार लोगों तक मदद पहुंचाई गई. 17101 गुम हुए बच्चों को मिलाया गया तो 93826 वरिष्ठ नागरिकों की सहायता की गई. कोविड की परिस्थितियों में एक लाख 76 हजार लोगों ने मदद मांगी.

अमेरिका के 911 के पैटर्न पर डायल 100
दूरसंचार के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक संजय झा ने बताया कि अमेरिका के 911 नम्बर के पैटर्न पर डायल 100 काम कर रही है. हर तरह की मदद की जा रही है. पुलिस से जुड़े प्रकरण ही नहीं बल्कि बेजुबानों की भी मदद की गई. एक हजार से ज्यादा नवजात बच्चे जिन्हें अज्ञात जगह पर फेंक दिया जाता है उन्हें भी इस टीम ने बरामद किया. कोरोना में लोगों की मदद की गई. जरूरतमंद लोगों तक राशन, खाना और दवाई पहुंचाई गईं. महिला अपराधों में भी मदद की जा रही है. मौके पर तत्काल पहुंचकर महिला अपराधों को भी रोका गया लोगों को खुदकुशी करने से भी रोका गया. सड़क हादसों में भी लोगों की मदद की गई.

कोई भी परेशानी हो डायल 100 है न
डायल 100 मदद का एक ऐसा नाम और सर्विस बन गई है जिसका नाम बड़े हों या बच्चे सबकी ज़ुबान पर होता है. कोई भी किसी भी तरह के संकट में हो सबसे पहले डायल 100 को ही याद करता है. किसी भी प्रकार की इमरजेंसी हो, किसी को भी खतरा हो या परेशानी हो, कुछ भी बात हो लोग मदद के लिए सीधे डायल 100 को फोन लगा रहे हैं. ये एक ऐसी सुविधा बन गई है जहां एक ही प्लेटफार्म पर मल्टीपल सेवाएं जनता को मिल रही हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज