1 जून से कर्फ्यू में कहां मिलेगी ढील, जिला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी करेंगी फैसला

एमपी के सभी 52 जिलों में अभी कोरोना कर्फ्यू है (सांकेतिक फोटो)

एमपी के सभी 52 जिलों में अभी कोरोना कर्फ्यू है (सांकेतिक फोटो)

Bhopal. विश्वास सारंग ने कहा जिलों में बनी कमेटी लोगों की राय और जनप्रतिनिधियों से चर्चा के बाद कोरोना कर्फ्यू में ढील देने पर फैसला करेंगी. जान को बचाना है और जहान को भी संचालित करना है.

  • Share this:

भोपाल. राजधानी भोपाल (Bhopal) में 25 मई से कोरोना कर्फ्यू (Corona curfew) में ढील मिल सकती है. सीएम शिवराज के एक जून से को रोना कर्फ्यू में ढील देने के संकेत के बाद अब किस जिले में कितनी ढील दी जाएगी इसको लेकर चर्चाएं गर्म हो गई है. प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा है कि कोरोना कर्फ्यू में ढील का फैसला जिला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी करेंगी.

विश्वास सारंग ने कहा जिलों में बनी कमेटी लोगों की राय और जनप्रतिनिधियों से चर्चा के बाद कोरोना कर्फ्यू में ढील देने पर फैसला करेंगी. उन्होंने कहा जान है तो जहान है. जान को बचाना है और जहान को भी संचालित करना है. इसलिए सभी जिलों में जिला कमेटी हालात देखकर कोरोना कर्फ्यू में ढील का फैसला लेंगी.

मोबाइल यूनिट के जरिए कोरोना जांच

राजधानी में टेस्टिंग की व्यवस्था बढ़ाने के लिए अब मोबाइल यूनिट की शुरुआत की गई है. प्रदेश के मंत्री विश्वास सारंग ने इस मोबाइल यूनिट सुविधा की शुरुआत की. ये मोबाइल यूनिट शहर भर में घूमकर कोरोना संदिग्ध मरीज़ों और पॉजिटिव मरीज़ों की जांच करेंगी. इसके जरिए शहर के उन इलाकों में जहां संक्रमण ज्यादा है मोबाइल वैन के जरिए लोगों की कोरोना की टेस्टिंग की जाएगी. इसके अलावा भोपाल नगर निगम ने शहर के 19 जोन में चार-चार कोरोना कैंप लगाए हैं ताकि लोग स्थानीय स्तर पर ही खून की जांच करा सकें. जिनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है उन्हें मौके पर ही मेडिकल किट दी जा रही है.


ऑक्सीजन की ऑनलाइन ट्रैकिंग

प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी और आपूर्ति को लेकर अब ट्रैकिंग भी शुरू हो गई है. भोपाल स्मार्ट सिटी में बने कंट्रोल रूम से प्रदेश भर में ऑक्सीजन के टैंकर की ट्रैकिंग लगातार की जा रही है. पता लगाया जा रहा है कि कब कौन सा ऑक्सीजन टैंकर किस जिले में पहुंच रहा है और कितने सिलेंडरों में ऑक्सीजन सप्लाई की जा रही है ताकि ऑक्सीजन सप्लाई में गड़बड़ी रोकी जा सके.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज