Home /News /madhya-pradesh /

क्रिप्टो करेंसी इंटरनेशनल रैकेट का वो केस जिसने मध्य प्रदेश को बना दिया नंबर 1

क्रिप्टो करेंसी इंटरनेशनल रैकेट का वो केस जिसने मध्य प्रदेश को बना दिया नंबर 1

मध्य प्रदेश सायबर पुलिस को अंतरराष्ट्रीय क्रिप्टो करेंसी रैकेट केस खुलासे में पहला पुरस्कार मिला

मध्य प्रदेश सायबर पुलिस को अंतरराष्ट्रीय क्रिप्टो करेंसी रैकेट केस खुलासे में पहला पुरस्कार मिला

गृह मंत्रालय भारत सरकार के इंडियन सायबर क्राइम को ऑर्डिनेशन सेंटर आई फॉर सी ने सायबर संबंधित अपराधों में बेहतरीन जांच के मामले में एक दिन का ऑनलाइन समिट किया था. इसमें मध्य प्रदेश सायबर पुलिस को अंतरराष्ट्रीय क्रिप्टो करेंसी रैकेट (Crypto Currency Racket) केस खुलासे में पहला पुरस्कार मिला.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. एमपी की सायबर क्राइम पुलिस (MP Cyber Crime branch Police ) ने एक और कमाल किया है. इंटरनेशनल क्रिप्टो करेंसी रैकेट का पर्दाफाश करने के बाद  वो सायबर अपराध सुलझाने के मामले में देश में सबसे आगे है. गृह मंत्रालय ने स्टेट सायबर पुलिस को इनवेस्टिगेशन में नंबर वन का तमगा दिया है, जबकि कर्नाटक नंबर दो और तेलंगाना नंबर तीन पर है.

गृह मंत्रालय भारत सरकार के इंडियन सायबर क्राइम को ऑर्डिनेशन सेंटर आई फॉर सी ने सायबर संबंधित अपराधों में बेहतरीन जांच के मामले में एक दिन का ऑनलाइन समिट किया था. इसमें देश भर के सभी राज्यों से सायबर संबंधित जटिल अपराधों की 2-2 केस स्टडी ली गई थीं. इसके बाद आई फॉर सी के जज पैनल के सामने केस स्टडी का ऑनलाइन प्रेजेंटेशन लिया गया. इसमें मध्य प्रदेश सायबर पुलिस को अंतरराष्ट्रीय क्रिप्टो करेंसी रैकेट केस खुलासे में पहला पुरस्कार मिला. दूसरा स्थान कर्नाटक सायबर पुलिस के ई गवर्नेंस पोर्टल ब्रीच केस स्टडी को मिला. तेलंगाना के इन्वेस्टिगेशन ऑफ लोन एप्लीकेशन को तीसरा स्थान मिला.

ये भी पढ़ें- MP के नामी शराब कारोबारी बाजार से गायब कर रहे हैं बड़े ब्रांड! CCI ने पूरे प्रदेश में मारा छापा

इन्वेस्टिगेशन में नम्बर वन…
केस स्टडी ये थी कि भोपाल के एक युवा कारोबारी से डेटिंग एप्लीकेशन से संपर्क में आई एक अनजान महिला ने दोस्ती कर इन्वेस्टमेंट में ज्यादा मुनाफे का लालच देकर एक करोड़ की ऑनलाइन ठगी की थी. जब पूरे मामले की जांच की गयी तो पता चला कि इसके पीछे अंतर्राष्ट्रीय रैकेट है. और ये पैसा क्रिप्टो करेंसी में कंवर्ट कर पाकिस्तान भेजा गया था. इस नेटवर्क में पाकिस्तानी और चीनी नागरिक के साथ रजिस्टर चार्टर एकटेट कंपनी सेक्रेटरी व्यवसायी शामिल थे.  इस मामले की जांच में अभी तक अलग-अलग राज्यों के 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. इनमें दो चार्टर्ड अकाउंटेंट और एक कंपनी सेक्रेटरी शामिल है.

आपके शहर से (भोपाल)

भोपाल
भोपाल

Tags: Cyber Crime News, Cyber Fraud, Madhya Pradesh by-election

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर