चुनाव हारने के 15वें दिन गिर्राज दंडोतिया ने दिया इस्तीफा, इमरती देवी को किस बात का है इंतज़ार ? 

दंडोतिया शिवराज सरकार में कृषि राज्य मंत्री थे

दंडोतिया शिवराज सरकार में कृषि राज्य मंत्री थे

उप चुनाव (By election) हारने के बाद यह कयास लगाए जा रहे थे कि आखिरकार गिर्राज दंडोतिया (Girraj Dandotia) कब इस्तीफा देंगे ? सोमवार को उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया

  • Share this:

भोपाल.शिवराज सरकार (Shivraj Government) में मंत्री और सिंधिया के करीबी नेता गिर्राज दंडोतिया ने आखिरकार मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj) से मुलाकात कर अपना इस्तीफा उन्हें सौंप दिया. दंडोतिया शिवराज सरकार में कृषि राज्य मंत्री थे. हाल ही में हुए 28 सीटों के विधानसभा उपचुनाव में दिमनी विधानसभा क्षेत्र से वे चुनाव हार गए थे.

चुनाव हारने के बाद यह कयास लगाए जा रहे थे कि आखिरकार गिर्राज दंडोतिया कब इस्तीफा देंगे ? सोमवार को उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया. हालांकि उनके साथ ही डबरा सीट से महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी सुमन भी चुनाव हार चुकी हैं लेकिन उन्होंने अब तक अपना इस्तीफा नहीं दिया है. वहीं चुनाव नतीजे आने के 48 घंटे के भीतर ही सुमावली से चुनाव हारने वाले ऐंदल सिंह कंसाना ने अपना इस्तीफा दे दिया था. 28 सीटों पर हुए विधानसभा उपचुनाव में शिवराज सरकार में मंत्री गिर्राज दंडोतिया,  एदल सिंह कंसाना और इमरती देवी सुमन चुनाव हार गए थे.

जीतने वालों को मंत्री बनने का इंतज़ार

उपचुनाव में जीत दर्ज करने के बावजूद शिवराज सरकार में मंत्री रहे तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत को फिर से मंत्री बनने का इंतजार है. यह दोनों अपने अपने विधानसभा क्षेत्र से चुनाव तो जीत गए हैं लेकिन चुनाव समय सीमा में ना होने की वजह से इन्हें उप चुनाव के ठीक पहले अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था. चुनाव परिणाम आने के बाद अटकलें लग रही थीं कि मंत्रिमंडल का विस्तार होगा और फिर से यह दोनों मंत्री पद की शपथ ले लेंगे. लेकिन 10 नवंबर को नतीजे आने के बावजूद अब तक शपथ ग्रहण नहीं हुआ है. लिहाजा इनके मंत्री बनने का इंतजार अभी और कितना लंबा होगा इस पर भी सियासी गलियारों में कई चर्चाएं हो रही हैं.


इमरती कब देंगी इस्तीफा ?

उधर डबरा सीट से चुनाव हार चुकीं इमरती देवी सुमन फिलहाल इस्तीफा देने के मूड में नहीं दिख रही हैं. 10 नवंबर को चुनाव नतीजे आने के बावजूद अब तक उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफा नहीं दिया है. ऐसे में अब कयास ये लगाए जा रहे हैं कि आखिरकार इमरती देवी इस्तीफा कब देंगी. अगर कोई नेता मंत्री है और चुनाव हार जाता है तो फिर उसे नैतिकता के आधार पर तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए. लेकिन इमरती देवी किस मुहूर्त का इंतजार कर रही हैं यह देखने वाली बात होगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज