• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • MP: छतरपुर में शराब से मौतों पर गृहमंत्री की सफाई पर कमलनाथ ने कहा- शिवराज के दावे केवल जुमले

MP: छतरपुर में शराब से मौतों पर गृहमंत्री की सफाई पर कमलनाथ ने कहा- शिवराज के दावे केवल जुमले

छतरपुर कांड में नरोत्तम मिश्रा  ने कार्रवाई की बात कही है. (फाइल फोटो)

छतरपुर कांड में नरोत्तम मिश्रा ने कार्रवाई की बात कही है. (फाइल फोटो)

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि छतरपुर में मौतें लगातार शराब पीने की वजह से हुईं. कोई परिजन पुलिस के पास नहीं गया. 100 डायल तुरंत मौके पर पहुंचती है.

  • Share this:

भोपाल. छतरपुर जिले में जहरीली शराब से हुईं 4 लोगों की मौत पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि वे लोग कई दिनों से शराब पी रहे थे. ये शराब उत्तर प्रदेश के ठेके से लाई गई थी. हम उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे जो वहां से शराब लाकर यहां स्टॉक करते हैं. बॉर्डर पर चौकसी बढ़ाई जाएगी.

क्या पुलिस ने दर्ज नहीं की FIR, इस सवाल पर गृह मंत्री ने कहा कि ऐसा नहीं है. उनमें से किसी का परिजन पुलिस के पास नहीं गया. मैंने खुद चेक किया है कि अगर आप 100 डायल करेंगे तो पुलिस तुरंत पहुंचती है.

कमलनाथ ने शिवराज को घेरा
पूर्व मंत्री कमलनाथ ने सरकार की मंशा पर सवाल उठा दिया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा- उज्जैन में ज़हरीली शराब से 14 लोगों की, मुरैना में 25 लोगों की मौत के बाद अब छतरपुर में शराब से 4 लोगों की दुखद मौत ? शिवराज जी , ये शराब माफिया कब तक यूं ही लोगों की जान लेते रहेंगे ? आख़िर “ ये माफिया कब गढ़ेंगे , कब टगेंगे , कब लटकेंगे , आपका बदला हुआ मूड कब इन माफ़िया को दिखेगा ? रेत माफिया , भू माफिया , वन माफिया , शराब माफिया सब तरह के माफिया आपकी सरकार आते ही फिर बेख़ौफ़ हैं , ये रोज़ सरकार को खुली चुनौती दे रहे है . आपके सारे दावे जुमले साबित हो रहे हैं.

ये है पूरा मामला
छतरपुर के हरपालपुर थाने के परेथा गांव में जहरीली शराब पीने से जिन चार लोगों की मौत हुई है उनमें दो लोग पिता-पुत्र थे. इन दोनों ने अस्पताल पहुंचने से पहले दम तोड़ दिया, जबकि दो अन्य की मौत इलाज के दौरान हुई. वहीं, एक की हालत गंभीर है. बताया जाता है कि सभी को उल्टी, दस्त और ना दिखने की परेशानी हुई थी. परिजन के मुताबिक, हरगोविंद (25) पिता शीतल अहिरवार की शुक्रवार सुबह मौत हो गई थी. मौत से पहले उसे उल्टी-दस्त और दिखना बंद हो गया था. शाम को अंतिम संस्कार से लौटने के बाद पिता शीतल को भी उल्टी, दस्त हुए. उन्हें भी दिखना बंद हो गया था. कुछ देर बाद उन्होंने भी दम तोड़ दिया. .

चलता रहा मौत का सिलसिला
अगले दिन हरगोविंद के बड़े भाई जयराम को भी यही परेशानी हुई. उसे हरपालपुर अस्पताल ले जाया गया, वहां से जिला अस्पताल रैफर कर दिया. रविवार सुबह गांव के ही लल्लू (75) पिता गिरधारी लाल बरार और तुलसीदास (42) पिता लीला अहिरवार को भी इसी परेशानी के बाद अस्पताल लाया गया. इलाज के दौरान लल्लू बरार और तुलसीदास ने भी दम तोड़ दिया. जयराम का इलाज चल रहा है.

मुरैना में भी मरे थे दो दर्जन लोग
गौरतलब है कि पिछले माह मुरैना जिले में भी जहरीली शराब पीने से 2 दर्जन से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी. इसके अलावा उज्जैन में भी ऐसा ही हादसा हुआ था, और अब नया हादसा चतरपुर जिले में हुआ है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज