MP-IPS अफसर व्ही मधु कुमार ने Viral Video की सरकार से की जांच की मांग...
Bhopal News in Hindi

MP-IPS अफसर व्ही मधु कुमार ने Viral Video की सरकार से की जांच की मांग...
व्ही. मधुकुमार जबलपुर में डीआईजी और आईजी के पद पर पदस्थ रहे चुके हैं.

जिस समय का यह वीडियो (video) बताया जा रहा है, उस समय वह मधुकुमार उज्जैन रेंज के आईजी (ig)थे. बताया जा रहा है कि ये वीडियो शाजापुर का है. हिडन कैमरा लगाकर वीडियो बनाया गया है.

  • Share this:
भोपाल.सोशल मीडिया (social media) पर रिश्वतखोरी का वीडियो वायरल (viral video) और फिर PHQ अटैच किए जाने के बाद मध्य प्रदेश के सीनियर आईपीएस अधिकारी (IPS officer) व्ही मधु कुमार ने सफाई दी है. उन्होंने इस वीडियो को गलत बताया है. उन्होंने कैमरे पर ना आने की शर्त पर न्यूज़ 18 से फोन पर अपनी बात कही.

पूर्व ट्रांसपोर्ट कमिश्नर व्ही मधुकुमार ने कहा कि मैंने जांच के लिए सरकार से कहा है. वीडियो की जांच होने चाहिए. जब वीडियो 2016 में बना है, तो उस समय ही आना चाहिए था. वीडियो सही नहीं है. सत्यता की जांच होना चाहिए. किसने वीडियो बनाया, कब बनाया,किसने वायरल किया. साजिश का पता जांच में चलेगा.

2016 का बताया जा रहा वीडियो
सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में एक शख्स, जिसे मधुकुमार बताया जा रहा है, वह लिफाफे लेते हुए दिखाई दे रहा है.वीडियो वायरल होने के बाद 1991 बैच के आईपीएस अधिकारी व्ही. मधुकुमार को पुलिस मुख्यालय अटैच कर दिया गया है. वायरल वीडियो में जिस शख्स को मधुकुमार बताया जा रहा है वो एक कमरे में बैठा है.उसके पास पुलिस अधिकारी आकर लिफाफे दे रहे हैं. लिफाफे वह अपने नीचे और अटैची में रख रहे हैं. इसके अलावा वह अधिकारियों को आश्वस्त कर रहे हैं कि ठीक से काम करो.




ये वायरल वीडियो 2016 में आगर मालवा के रेस्ट हाउस का बताया जा  रहा है.

ये भी पढ़ें-MP-शिव तांडव स्त्रोत्रम् का Viral Video भोजपुर के शिव मंदिर में हुआ शूट...ये है इसकी कहानी

उज्जैन रेंज के आईजी थे मधुकुमार
जिस समय का यह वीडियो बताया जा रहा है, उस समय वह मधुकुमार उज्जैन रेंज के आईजी थे. बताया जा रहा है कि ये वीडियो शाजापुर का है. हिडन कैमरा लगाकर वीडियो बनाया गया है. यह वीडियो जमकर वायरल हुआ. आईपीएस अधिकारियों से लेकर आईएएस अधिकारियों के बीच इस वीडियो की चर्चा हुई. जब यह वीडियो मंत्रालय पहुंचा और वहां से सरकार तक, तब जाकर इस पर एक्शन लिया गया. व्ही. मधुकुमार जबलपुर में डीआईजी और आईजी के पद पर पदस्थ रहे चुके हैं. कहा जाता है कि सरकार किसी भी पार्टी की रही हो लेकिन मधु कुमार अच्छी पोस्टिंग पर ही रहे हैं.

नये ट्रांसपोर्ट कमिश्नर के नाम की चर्चा
ट्रांसपोर्ट कमिश्नर के पद से मधु कुमार को हटाए जाने के बाद अब इस पोस्ट पर पोस्टिंग के लिए नये अफसरों के नाम की चर्चा शुरू हो गयी है. चर्चा है कि ट्रांसपोर्ट कमिश्नर के लिए भोपाल एडीजी उपेंद्र जैन और उनके दिल्ली स्थित आईपीएस भाई मुकेश जैन का नाम सबसे आगे चल रहा है. अभी तक सरकार ने नये ट्रांसपोर्ट कमिश्नर के नाम का ऐलान नहीं किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading