Home /News /madhya-pradesh /

mp is number two in the country in road accidents indore highest in mp ncrb report mpsg

सड़क दुर्घटना में एमपी देश में नंबर दो, इंदौर में सबसे ज्यादा हादसे, पढ़िए NCRB की रिपोर्ट

Alert : NCRB की रिपोर्ट बता रही है कि ओवर स्पीड और लापरवाही सड़क हादसों की सबसे बड़ी वजह है.

Alert : NCRB की रिपोर्ट बता रही है कि ओवर स्पीड और लापरवाही सड़क हादसों की सबसे बड़ी वजह है.

Road Accidents in MP : नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की ताजा रिपोर्ट के अनुसार देश में सड़क हादसों के मामले में मध्यप्रदेश नंबर दो पर है. नंबर एक पर तमिलनाडु है. इस रिपोर्ट में अस्सी फीसदी से ज्यादा सड़क हादसे ओवरस्पीड और लापरवाही की वजह से हो रहे हैं. देश में 3.54 लाख सड़क दुर्घटनाएं हुईं, जिनमें 1.33 लाख लोगों जान चली गयी. इनमें 56.6% मौतें ओवरस्पीड की वजह से हुईं. साथ ही 26.4% मौतें ड्राइवर की लापरवाही और ओवरटेक करने की वजह से हुईं.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. मध्य प्रदेश सड़क हादसों का प्रदेश बन गया है. देश में फिर रोड एक्सीडेंट के मामले में मध्यप्रदेश दूसरे नंबर पर है. एमपी में सड़क हादसे कम नहीं हो रहे हैं. ओवरस्पीड और लापरवाही की वजह से सड़क हादसों में लोगों की जान जा रही है. मध्यप्रदेश की बात करें तो सड़क हादसों के मामले में इंदौर नंबर वन है.

नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की ताजा रिपोर्ट के अनुसार देश में सड़क हादसों के मामले में मध्यप्रदेश नंबर दो पर है. नंबर एक पर तमिलनाडु है. इस रिपोर्ट में अस्सी फीसदी से ज्यादा सड़क हादसे ओवरस्पीड और लापरवाही की वजह से हो रहे हैं. देश में 3.54 लाख सड़क दुर्घटनाएं हुईं, जिनमें 1.33 लाख लोगों जान चली गयी. इनमें 56.6% मौतें ओवरस्पीड की वजह से हुईं. साथ ही 26.4% मौतें ड्राइवर की लापरवाही और ओवरटेक करने की वजह से हुईं.

रोड एक्सीडेंट का ग्राफ…
राज्य                वर्ष
2020      2021
तमिलनाडु     45,484    57,2282

-मध्यप्रदेश      42,396     51,6413
-कर्नाटक       34,178      40,6444
-उत्तर प्रदेश    28,653      37,5375
-केरल           27,799       39,944

ये भी पढ़ें- एमपी विधानसभा चुनाव : बीजेपी के गढ़ में कांग्रेस लगाएगी सेंध, जिताऊ चेहरे के लिए सर्वे शुरू

NCRB की रिपोर्ट
भोपाल के एडिशनल पुलिस कमिश्नर सचिन अतुलकर ने कहा पीटीआई और मध्य प्रदेश पुलिस का फोकस रहता है कि सड़क हादसे में किस तरीके से कमी लाई जाए. पुलिस कमिश्नर सिस्टम में भी नए प्रयोग किये जा रहे हैं. फीडबैक लिये जा रहे हैं. ट्रैफिक मैनेजमेंट को भी बदला जा रहा है. नए-नए प्रयोगों के साथ नई योजनाएं लागू की जा रही हैं. शहरों में ट्रैफिक का दबाव रहता है. हम सड़कों पर अच्छा मूविंग ट्रैफिक चाहते हैं.

ओवरस्पीड बनी जानलेवा
देशभर में ओवर स्पीड और लापरवाही की वजह से 83 फीसदी लोगों की सड़क हादसों में जान गई है. ट्रैफिक नियमों का पालन नहीं करना भी सड़क हादसे की मुख्य वजह बन गई है. इसलिए ट्रैफिक नियमों को अब शिक्षा के साथ पढ़ाया जा रहा है. लोगों को जागरुक किया जा रहा है. ट्रैफिक पुलिस नियम उल्लंघन करने वालों के खिलाफ चालान काटती है. लेकिन इसके बावजूद भी ओवर स्पीड और लापरवाही की वजह से सबसे ज्यादा मौत हो रही हैं.

एमपी में रोड एक्सीडेंट का ग्राफ
शहर                 2020      2021
-इंदौर             2101       33362-
जबलपुर         1916       21673
-भोपाल          1590       25164
-ग्वालियर        1013       1218

एनसीआरबी की रिपोर्ट पर नजर डालें तो 2019 की अपेक्षा 2020 में सड़क हादसों में कमी आई है. वजह ये रही कि कोरोना के कारण लॉकडाउन रहा और लोग घर में रहे.

Tags: Accident in MP, Madhya pradesh latest news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर