गुना घटना की जांच करेगी कमलनाथ की टीम, PCC ने 7 सदस्यों को सौंपी ज़िम्मेदारी
Bhopal News in Hindi

गुना घटना की जांच करेगी कमलनाथ की टीम, PCC ने 7 सदस्यों को सौंपी ज़िम्मेदारी
48 घंटे के अंदर पीसीसी को अपनी रिपोर्ट देगी.

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के ट्वीट के बाद पूरी कांग्रेस (congress) पार्टी सक्रिय हो गई है. 1 दिन पहले तक प्रदेश सरकार पर आक्रामक तेवर दिखाने वाले कमलनाथ ने टीम सरकार को घेरना शुरू कर दिया है.

  • Share this:
भोपाल. गुना (GUNA) में दलित परिवार के साथ हुई पुलिसिया कार्रवाई को लेकर मचे बवाल पर अब कांग्रेस शिवराज सरकार (shivraj government) की घेराबंदी में जुट गई है. कमलनाथ ने घटना की जांच के लिए 7 सदस्यों का दल बना दिया है. यह टीम कल गुना जाकर पूरे मामले की पड़ताल करेगी. कमलनाथ ने इस टीम में पूर्व गृहमंत्री बाला बच्चन, रामनिवास रावत,जयवर्धन सिंह, फूल सिंह बरैया, सुरेंद्र चौधरी, हीरालाल अलावा और विभा पटेल को शामिल किया है. यह टीम मौके पर पहुंचकर इस बात की पड़ताल करेगी कि आखिर घटना घटने का मूल कारण क्या था.

जांच टीम ने अपने सवालों में कई बिंदुओं को शामिल किया है-
-घटना के लिए कौन जिम्मेदार
-किसके इशारे पर पूरी कार्रवाई हुई.
-किस-किस का दबाव पुलिस और जिला प्रशासन की टीम पर था
-लापरवाही के कारण कौन-कौन से थे


कौन-कौन से अधिकारी और कर्मचारी पूरे मामले में दोषी हैं.
- पीड़ित परिवार की व्यथा क्या है
- पीड़ित परिवार की आर्थिक और सामाजिक परिस्थिति कैसी है



ये भी पढ़ें-Guna : जगनपुर चक पर अतिक्रमण हटाने के दौरान विवाद, पति-पत्नी ने पी कीटनाशक दवा, जानिए पूरा मामला

राहुल के ट्वीट का असर
इन तमाम पहलुओं पर टीम जांच कर कांग्रेस को अपनी रिपोर्ट सौंपेगी.कमलनाथ ने जांच टीम में एससी, एसटी,एससी, ओबीसी वर्ग के नेताओं को शामिल किया है, ताकि वह बारीकी से हर मामले की पड़ताल कर सकें. घटना को लेकर कांग्रेस, बीजेपी को पूरी तरह घेरने के प्लान में है. यही कारण है कि घटना पर राहुल गांधी के ट्वीट के बाद पूरी कांग्रेस पार्टी सक्रिय हो गई है. 1 दिन पहले तक प्रदेश सरकार पर आक्रामक तेवर दिखाने वाले कमलनाथ ने टीम सरकार को घेरना शुरू कर दिया है.

48 घंटे में रिपोर्ट
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की जांच टीम शुक्रवार को गुना पहुंचेगी और सभी पहलुओं पर पड़ताल कर अगले 48 घंटे के अंदर पीसीसी को अपनी रिपोर्ट देगी. कांग्रेस पार्टी की कोशिश है इस पूरे मामले में बिना देर किए हकीकत सामने लायी जाए ताकि किस स्तर पर सरकार फेल साबित हुई है उसका खुलासा किया जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading