मप्र विधानसभा बजट सत्रः कृष्णा गौर ने पूछा- पहली बार की महिला विधायकों को क्यों नहीं मिला मौका? ये मिला जवाब

मध्य प्रदेश विधानसभा में आज वो विधायक सवाल करेंगे जो पहली बार चुनकर आए हैं. (File)

मप्र विधानसभा बजट सत्रः विधानसभा स्पीकर गिरीश गौतम ने नई पहल की. उन्होंने सवाल करने का मौका उन विधायकों को दिया जो पहली बार चुनकर आए हैं. अध्यक्ष का मानना है कि इससे उन विधायकों का मनोबल बढ़ेगा.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत प्रश्नकाल से हुई.  प्रश्नकाल शुरू होते ही विधानसभा में कोरोना संक्रमण का मामला उठा. गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि सदन में 4 विधायकों को कोरोना संक्रमण हो चुका है. संक्रमित होने वाले विधायकों के आसपास कई विधायक बैठे थे. इस मामले में सदन और विधानसभा अध्यक्ष को विचार करना चाहिए.

उधर, विपक्ष की तरफ से डॉक्टर गोविंद सिंह ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ मंगलवार को सदन में आएंगे. उसके बाद पूरे मामले पर चर्चा होनी चाहिए. गौरतलब है कि आज मध्य प्रदेश विधानसभा में नया इतिहास रचा जाएगा. विधानसभा स्पीकर गिरीश गौतम ने कहा कि सभी विधायक अपना कोरोना टेस्ट जरूर कराएं. सिंगरौली के एक और विधायक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इस पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि बुजुर्ग कांग्रेस के विधायकों का पहले जाएं परीक्षण कराएं.

कृष्णा गौर ने उठाया महिला विधायकों को मामला

बीजेपी विधायक कृष्णा गौर ने महिला विधायकों को मामला उठाया. उन्होंने कहा कि पहली बार चुनकर आए विधायकों में महिला विधायक का नाम नहीं है. जबकि विधानसभा में 20 महिला विधायक चुनकर आई हैं. उन्हें भी सवाल पूछने का मौका मिलना चाहिए. इस पर अध्यक्ष ने कहा कि इन विधायकों के नाम लॉटरी के तहत निकाले गए हैं.



पहली बार के विधायक पर फंसे सिलावट

पहली बार के विधायक धर्मेंद्र भाव सिंह लोधी के सवाल से मंत्री तुलसीराम सिलावट घिर गए. लोधी ने  दमोह में मत्स्य बीज के लिए हेचरी संचालित करने और 2 साल में खर्च हुई राशि की जानकारी मांगी थी. मंत्री तुलसीराम सिलावट ने जवाब दिया कि जानकारी दे दी गई है. लेकिन, बीजेपी विधायक ने शिकायत की कि उन्हें कोई जानकारी नहीं दी गई है. तब सिलावट ने जानकारी देने का भरोसा दिया.

विपक्ष का सदन से वॉकआउट, विधायक धरने पर

पीईबी द्वारा आयोजित कृषि विस्तार अधिकारी परीक्षा मामले को लेकर सदन में जोरदार हंगामा हुआ. मामले को लेक विधानसभा में सदन से विपक्ष ने वॉकआउट किया. इससे पहले सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच तीखी नोकझोंक भी हुई. विपक्ष ने कृषि विस्तार अधिकारी परीक्षा मामले में चर्चा कराए जाने की मांग की. इधर विधायक मेवाराम जाटव ने मुरैना और भिंड जिले के किसानों को बाजरा और मक्का के भुगतान को लेक सवाल किया था. लेकिन, वे सवाल के जवाब से संतुष्ट नहीं हुए और धरने पर बैठ गए.

विधानसभा में अनूठी पहल

विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने अनूठी पहल की.  इसके तहत विधानसभा में पहली बार चुनकर आए विधायकों को सवाल पूछने का मौका दिया गया.  इसका उद्देश्य पहली बार के विधायकों का मनोबल बढ़ाना था. महाशिवरात्रि की छुट्टी के बाद शुरू होने वाले विधानसभा सत्र में पहली बार चुनकर आए विधायक पूरक सवाल भी कर सके. इसके लिए विधानसभा में लॉटरी के जरिए इन विधायकों के नाम चुने गए. विधानसभा की प्रश्नोत्तरी में शुरुआती 25 सवाल पहली बार चुनकर आए विधायकों के ही हुए.

पक्ष-विपक्ष ने किया स्वागत

विधानसभा स्पीकर गिरीश गौतम की इस नई पहल का बीजेपी और कांग्रेस दोनों ने स्वागत किया. एमपी सरकार के मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा ने कहा है कि विधानसभा स्पीकर की पहल से पहली बार चुनकर आए विधायकों का मान बढ़ेगा और वह विधानसभा की कार्रवाई में उत्साह के साथ शामिल हो सकेंगे. यह एक सकारात्मक पहल है. वहीं, कांग्रेस ने भी इस पहल का स्वागत किया है. पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कहा है की विधानसभा स्पीकर गिरीश गौतम की यह पहल नए विधायकों को उत्साहित करने वाली होगी. लॉटरी सिस्टम के जरिए 25 विधायकों के सवालों को शुरुआत में प्रश्नोत्तरी में रखा गया है. लेकिन विधानसभा में इस बात का ध्यान सत्तारूढ़ पार्टी को रखना होगा की पहली बार चुनकर आए विधायकों का पूरा जवाब मंत्री दे.

सत्र में सदन की कार्यवाही बेहद दिलचस्प 
दरअसल, 2018 के विधानसभा चुनाव में 90 विधायक पहली बार चुनकर विधानसभा में पहुंचे हैं. लेकिन शुरुआती 15 महीने सियासी उठापटक के कारण विधानसभा पूरी तरीके से संचालित नहीं हो सकी. उसके बाद 1 साल से कोरोना संक्रमण के कारण विधानसभा संचालित नहीं हो पाई. लंबे समय बाद विधानसभा में बजट सत्र चलाया जा रहा है जो कि 26 मार्च तक चलना है. बजट सत्र में महिला दिवस के मौके पर महिलाओं को महिला सभापति को आसंदी पर बिठाया गया और महिला विधायकों को सवाल करने के मौके दिए गए. और इसके बाद अब पहली बार चुनकर आए विधायकों को विधानसभा में मौका मिलेगा.  सपा के एक और बसपा के दो विधायकों समेत 90 विधायक विधानसभा में पहली बार चुनकर पहुंचे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.