LIVE NOW

MP News Live Updates: इंदौर में कोरोना के बाद ब्लैक फंगस का कहर, रोज आ रहे 10 केस

MP News, 15 May 2021: इंदौर में कोरोना के साथ ही अब ब्लैक फंगस का कहर बढ़ता जा रहा है. रोजाना 8 से 10 केस नए आ रहे हैं. अकेले महाराज यशवंत राव हॉस्पिटल (एमएचवाय) में ही ब्लैक फंगस इंफेक्शन के 18 मरीज भर्ती हैं.

Hindi.news18.com | May 15, 2021, 2:58 PM IST
facebook Twitter Linkedin
Last Updated May 15, 2021
MP News Live Updates: इंदौर में कोरोना के बाद ब्लैक फंगस का कहर, रोज आ रहे 10 केस

हाइलाइट्स

2:58 pm (IST)
मुरैना. जिले में रेत माफिया लगातार पुलिस को चकमा दे रहे हैं. विभाग की एसडीओ द्वारा लगातार रेत माफियाओं के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है. बावजूद खनन माफिया पीछे हटने को तैयार नहीं है. शुक्रवार की रात एसडीओ श्रद्धा पाढ़रे ने अवैध रेत से भरी दो ट्रेक्टर ट्रालियों को पकड़ा. उनको पकड़कर पोरसा थाने के सुपुर्द कर दिया है. इसके साथ ही एक ओव्हरलोड रेत के डंपर को भी पकड़ा है, जिसे माइनिंग विभाग को सौंप दिया है. लॉकडाउन में जहां पूरा जिला घरों के अन्दर बंद है. वहां रेत माफिया लगातार खनन कर रहे हैं. विभाग द्वारा लगातार कार्यवाही करने के बावजूद इनके हौंसले बुलंद हैं. यह रेत माफिया चंबल के अवैध रेत को भरकर बेचने ले जा रहे हैं.

2:38 pm (IST)
भोपाल. प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बीच अब ब्लैक फंगस का खतरा मंडरा रहा है. इस मामले पर अब सियासत भी जोर पकड़ने लगी है. कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर ब्लैक फंगस के लिए जरूरी इंजेक्शन की कालाबाजारी और नकली इंजेक्शन का कारोबार शुरू होने का अंदेशा जताया है.दिग्विजय सिंह ने सीएम शिवराज से अनुरोध किया है कि ब्लैक फंगस के इलाज के लिए जरूरी इंजेक्शन मरीजों को अस्पतालों के जरिए उपलब्ध कराए जाएं. इसकी कालाबाजारी और नकली दवा के कारोबार को रोकने के लिए सरकार सख्त कदम उठाए. सिंह ने अपने पत्र में कहा है कि इस बीमारी के इलाज के लिए जरूरी एंटी फंगल इंजेक्शन बाजार से गायब हो गए हैं और उनके परिजन भटक रहे हैं. ऐसे में सरकार को कुछ ठोस कदम उठाने चाहिए.

2:14 pm (IST)
सतना. कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से पालन कराने के लिए एसपी धर्मवीर सिंह यादव और निगमायुक्त तन्वी हुडडा के साथ कलेक्टर अजय कटेसरिया शुक्रवार की देर शाम से लेकर रात तक सर्किट हाउस चौराहे पर डटे रहे. यहां हर आने जाने वाले वाहन चालकों के खिलाफ सख्ती से पेश आने के​ लिए पुलिस को कहा. फिर क्या यातायात पुलिस और जिला पुलिस बल के जवान हर चौराहे पर मुस्तैद हो गए. यहां हर एक वाहन की चेकिंग पुलिस कर रही थी. तभी छतरपुर के बड़ा मलहरा से सीधी जिले की बहरी जा रही बारात को पुलिस ने रोक लिया. दो वाहनों को साथ लेकर जा रहे दुल्हे को कार से उतार कर समझाइश दी गई. इसके बाद दोनों वाहनों का चालान काटा गया. साथ ही पुलिस ने बारात सहित वापस लौटने की हिदायत दी. फिर सीधी जिले की बहरी पुलिस को सूचना दे दी गई है कि कहीं दूसरे रास्ते से बारात न पहुंच जाए.

1:46 pm (IST)
भोपाल. ‘इंदौर और जबलपुर में जिन कोरोना मरीजों को गुजरात से आए नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन लगाए गए, उनमें से 90 फीसदी मरीजों का लंग्स इंफेक्शन ठीक हो गया.’ जी हां, पुलिस ने खुद ये चौंकाने वाला खुलासा किया है. पुलिस का कहना है कि इस मामले में प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग को गंभीरता से सोचना चाहिए.एक पुलिस अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर बताया कि इंदौर में जिन लोगों को नकली रेमडेसिविर दिए गए, उनमें से दस की मौत हो गई. जबकि, 100 से ज्यादा लोग ठीक हो गए. बावजूद इसके कि इंजेक्शन में केवल ग्लूकोज और नमक था. हालांकि, जिन लोगों की मौत हो गई उनके शरीर की जांच नहीं हो सकती, क्योंकि सभी का अंतिम संस्कार हो चुका है.

12:48 pm (IST)
ग्वालियर. ग्वालियर. 23 साल की विधवा महिला को बुरे समय में साथ देकर एक युवक ने दोस्ती की. कुछ दिन बाद अपने प्यार का इजहार किया. साथ ही महिला से शादी कर उसे नया जीवन देने का वादा किया. जब वह उस पर विश्वास करने लगी तो युवक ने उसकी ही मां-मौसी के सामने दुष्कर्म किया. आरोपी फिलहाल फरार है. घटना 12 मई सिंधिया नगर की है. जब महिला ने जबरदस्ती का विरोध किया तो आरोपी शादी से मुकर गया है. घटना की शिकायत महिला ने विश्वविद्यालय थाने में की है. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. मोहना निवासी एक महिला की 3 साल पहले शादी हुई थी. शादी के एक साल बाद ही हादसे में उसके पति की मौत हो गई थी. महिला का बुरा समय चल रहा था. इसी समय उसकी मुलाकात एक कार्यक्रम के दौरान मुरैना के अमन कुमार से हुई.

12:22 pm (IST)
इंदौर. इंदौर में कोरोना के साथ ही अब ब्लैक फंगस का कहर बढ़ता जा रहा है. रोजाना 8 से 10 केस नए आ रहे हैं. अकेले महाराज यशवंत राव हॉस्पिटल (एमएचवाय) में ही ब्लैक फंगस इंफेक्शन के 18 मरीज भर्ती हैं. अब तक सभी अस्पतालों का आंकड़ा देखें तो करीब 200 मरीज सामने आ चुके हैं. ब्लैक फंगस के लिए लगने वाले एम्फोसिटिरिन-बी, पोसाकोनाजोल, आईसेबुकोनाजोल इंजेक्शन बाजार में उपलब्ध नहीं हैं. 5 से 8 हजार रुपए तक में मिलने यह इंजेक्शन एक मरीज को रोज 4 से 5 बार लगते हैं. ऐसे में इंजेक्शन का ही रोज का खर्च 35 से 40 हजार का खर्च है. एक मरीज को कम से कम 7 दिन तो इंजेक्शन लगाना ही पड़ता है. इसके आगे भी इंफेक्शन को देखते हुए इंजेक्शन लगते हैं. इंजेक्शन के साथ सर्जरी भी जरूरी है.

11:52 am (IST)
भोपाल. रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी में फिर से कोलार के जेके अस्पताल का नाम सामने आया है. यहां का आईटी मैनेजर आकाश दुबे इंजेक्शन बेचता था. पुलिस ने उसके तीन दोस्तों अंकित सलूजा, दिलप्रीत, आकर्ष सक्सेना को गिरफ्तार किया है. जबकि आकाश फरार है. वह अस्पताल में भर्ती कोविड मरीजों के लिए आए इंजेक्शन चुरा लेता था, बाद में उन्हें तीनों दोस्तों को बेच देता था. एसपी साउथ साईं कृष्णा ने बताया कि तीनों आरोपियों को मंदाकिनी चौराहे से एक वरना कार से गिरफ्तार किया गया है. तीनों ग्राहक के इंतजार में खड़े थे. कार की तलाशी में पांच इंजेक्शन मिले. इन्होंने अब तक 16 इंजेक्शन लेकर बेचने की बात कबूली है. बताया जाता है कि आकर्ष को भोपाल क्राइम ब्रांच के तीन पुलिसकर्मियों ने पांच दिन पहले पकड़ा था. आरोप है कि ढाई लाख रुपए लेकर उस वक्त उसे छोड़ दिया गया था. इंजेक्शन की डीलिंग के लिए आरोपी कोड वर्ड ‘एंड्रॉयड’ का इस्तेमाल करते थे. बता दें कि 23 अप्रैल को जेके अस्पताल के नर्सिंग स्टाफ में काम करने वाले झलकन सिंह मीणा को गिरफ्तार किया था. वह एक नर्स की मदद से इंजेक्शन चुराता था.

11:26 am (IST)
ग्वालियर. कोरोना कर्फ्यू लागू होने से शहर की सड़कों पर वाहन कम चले. इससे हवा की सेहत में सुधार हुआ है. 6 और 7 अप्रैल को हवा में धूल के कणों को प्रदर्शित करने वाले पीएम 10 की मात्रा 200 माइक्रो ग्राम प्रतिघन मीटर से अधिक दर्ज हुई थी. यह मानक से दोगुना ज्यादा थी. जबकि एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 7 अप्रैल को 188 दर्ज हुआ था, लेकिन इसके बाद से लगातार इसमें सुधार हुआ है. क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मॉनीटरिंग स्टेशन पर 13 दिन में एक्यूआई 73 से 92 रिकॉर्ड हुआ है. जबकि पीएम 10 की मात्रा 37 से 91 माइक्रोग्राम प्रतिघन मीटर तक दर्ज हुई. वहीं पीएम 2.5 की मात्रा 8 से 31 माइक्रोग्राम प्रतिघन मीटर के बीच रह गई. यह मानक 60 माइक्रोग्राम प्रतिघन मीटर से आधे से भी कम है.

11:00 am (IST)
भोपाल. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के VIP रोड पर उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक लड़की ने बड़े तालाब में छलांग लगा दी. पीछे से आ रहे भाई ने भी तालाब में छलांग लगाई और उसे बचा लिया. इस बीच गोताखोर भी बोट लेकर पहुंच गए और दोनों को बाहर निकाला. युवती को इलाज के लिए हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है.तलैया थाना प्रभारी डीपी सिंह ने बताया कि एयरपोर्ट इलाके में रहने वाली निकिता मीना का किसी बात को लेकर परिवार से झगड़ा हो गया था. इसी झगड़े के बाद वह गुस्सा हो गई और अपने घर से बिना बताए निकल आई. उन्होंने बताया कि घर से निकलने के बाद निकिता का भाई लगातार उसका पीछा करता रहा.

10:28 am (IST)
भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोना महामारी से लड़ने जल्द स्वास्थ्यकर्मियों और डॉक्टरों की भर्ती की जाएगी. मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने कहा है कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते स्वास्थ्य कर्मियों की संख्या बढ़ाये जाने की जरूरत है. आने वाले एक महीने में  2400 स्वास्थ्यकर्मियों की भर्ती होगी. इसमें 800 डॉक्टर, 800 नर्स के साथ 800 टेक्नीशियन की भर्ती की जाएगी.मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस लंबे समय तक चलने वाली बीमारी है. प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार करते हुए 5000 ऑक्सीजन बेड बढ़ाए जाएंगे, 1 हजार ICU बेड बढ़ाने की भी तैयारी है. 

LOAD MORE
भोपाल. मुख्यमंत्री ने कहा 100 से ज्यादा ऑक्सीजन प्लांट हम प्रदेश में लगा रहे हैं. इनमें से कुछ अगले महिने जून में शुरू हो जाएंगे. हर शख्स पेड़ ज़रूर लगाएं. इससे ऑक्सीजन मिलेगी. कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए हम सबको सारे मतभेद भूलकर एक होकर लड़ना है. एकजुट होकर इस लड़ाई को लड़ें. हमें भरोसा है कि मध्य प्रदेश -हम मिलकर इस संक्रमण को रोकने का उपाय करेंगे. कोरोना वायरस की चेन तोड़ने के लिए प्रयास करेंगे. हमने अपने कई लोगों को खोया है. आगे ये नुकसान न हो इसका ध्यान रखें. कोरोना हारेगा-मानवता जीतेगी. हमें ईश्वर मृत्यु से अमृत की ओर ले चलें.

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज