Home /News /madhya-pradesh /

MP से छिन गया सोया स्टेट का तमगा, आयात की जा रही है दाल, कांग्रेस ने कहा-ये BJP का षड़यंत्र

MP से छिन गया सोया स्टेट का तमगा, आयात की जा रही है दाल, कांग्रेस ने कहा-ये BJP का षड़यंत्र

जीतू पटवारी ने कहा 15 लाख मीट्रिक टन दाल आयात की जा रही है,इससे किसानों को भारी नुकसान हो रहा है.

जीतू पटवारी ने कहा 15 लाख मीट्रिक टन दाल आयात की जा रही है,इससे किसानों को भारी नुकसान हो रहा है.

BHOPAL. मध्यप्रदेश में देश भर का क़रीब साठ फीसदी सोयाबीन का उत्पादन होता था. इसलिए इसे सोया स्टेट कहा जाता था. पिछले कुछ साल से सोया प्रदेश का गौरव छिन गया है. क्योंकि प्रदेश में सोया उत्पादन के सबसे बड़े इलाके इसकी उपज अब दम तोड़ रही है.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. मध्य प्रदेश से सोया स्टेट (Soya State) का तमगा छिन गया है. कांग्रेस (Congress) ने इसके लिए बीजेपी सरकार को जिम्मदार ठहराया. उसने कहा बीजेपी किसान विरोधी पार्टी है. इसलिए दाल बाहर से आयात की जा रही है. इससे किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है. बीजेपी यह सब कुछ षड्यंत्र के तहत कर रही है.

भोपाल में प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पार्टी के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने प्रेस वार्ता ली. उन्होंने कहा बीजेपी किसान विरोधी पार्टी है. जब से बीजेपी की सरकार बनी है तब से किसानों की हालत खराब हो गई है. रावण रूपी अहंकार किसानों को बर्बाद कर रहा है.

किसानों के खिलाफ षडयंत्र
जीतू पटवारी ने कहा-पिछले साल मप्र में 70 फीसदी सोयाबीन खराब हो गया था. आज तक सरकार ने उसकी भरपाई नही की है. प्रदेश से सोया स्टेट का तमगा भी छिन गया. कांग्रेस ने सोयाबीन की खराब हुई फसल का सर्वे करवाने की मांग की. पटवारी ने आरोप लगाया कि बाहर से सोयाबीन खरीद कर सरकार किसानों के साथ षड्यंत्र कर रही है. किसानों को 9 से 12 हजार रुपये क्विंटल के भाव से सोयाबीन का बीज खरीदना पड़ रहा है. बीमा की राशि भी किसानों को नहीं दी जा रही है. खराब बीज किसानों को दिया जा रहा है. सरकार ने जो बीज सोयाबीन का दिया था वो उगा ही नहीं.

दाल के निर्यात से किसानों का नुकसान
जीतू पटवारी ने कहा मध्यप्रदेश में एक करोड़ किसान खेती करते हैं. बीते तीन साल में दाल के एक्सपोर्ट पर बैन लगा हुआ था. सरकार अब बाहर से दाल खरीद रही है, जिससे किसानों को भारी नुकसान होगा. 15 लाख मीट्रिक टन दाल आयात की जा रही है. लॉक डाउन के दौरान किसान प्रभावित हुए हैं. बीजेपी कहती है कि हमारी सरकार किसानों का कर्ज माफ न करने के कारण गिरी. लेकिन जब कांग्रेस के 25 विधायकों ने कर्ज माफी की जानकारी मांगी तो सरकार जानकारी नहीं दे पा रही है.

इसलिए एमपी था सोया स्टेट
मध्यप्रदेश में देश भर का क़रीब साठ फीसदी सोयाबीन का उत्पादन होता था. इसलिए इसे सोया स्टेट कहा जाता था. पिछले कुछ साल से सोया प्रदेश का गौरव छिन गया है. क्योंकि प्रदेश में सोया उत्पादन के सबसे बड़े इलाके नरसिंहपुर जिले में इसकी उपज अब दम तोड़ रही है. यही नहीं, प्रदेश के चंबल, ग्वालियर और बुंदेलखंड इलाकों में पिछले तीन साल में सोयाबीन की बर्बादी ने किसानों का रुझान इस फसल के प्रति कम कर दिया है.

Tags: CM Shivraj Singh Chauhan, Congress MLA, Jitu Patwari, Madhya pradesh news, Soyabean

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर