अपना शहर चुनें

States

MP मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड का लोगो जारी : ये है ऊर्जा, सुरक्षा और ज़िम्मेदारी का प्रतीक

एमपी में रेल स्टेशन के लिए अब मेट्रो कॉर्पोरेशन निविदाए मंगवाने की तैयारी में है.
एमपी में रेल स्टेशन के लिए अब मेट्रो कॉर्पोरेशन निविदाए मंगवाने की तैयारी में है.

Bhopal : भोपाल में एम्स (AIIMS) से करोंद चौराहा तक और भदभदा चौराहे से रत्नागिरी तिराहे तक दो करीब 30 किमी के दो कॉरिडोर बनाए जाने हैं. इंदौर में लगभग 31.5 किलोमीटर का मेट्रो कॉरिडोर बनाया जाएगा.

  • Share this:
भोपाल. एमपी मेट्रो रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड का नया लोगो (Logo) जारी हुआ है. इसमें स्पेक्ट्रम के प्राथमिक रंग नीला लाल और हरे रंग को शामिल किया गया है. नीला रंग जिम्मेदारी, लाल रंग ऊर्जा और हरा रंग सुरक्षा का प्रतीक है. मेट्रो लोगो में तीन अक्षर मेट्रो (Metro) और डॉट्स लाइन ट्रैक और मेट्रो स्टेशन्स के सिंबल्स होंगे. मेट्रो का मोटो शहर का विकास और जनता को तेज गति से परिवहन सुलभ कराना है.

एमपी में रेल स्टेशन के लिए अब मेट्रो कॉर्पोरेशन निविदाए मंगवाने की तैयारी में है. भोपाल इंदौर में मेट्रो रेल स्टेशन के लिए भी निविदाएं जारी करने की तैयारी है. भोपाल शहर में सुभाष नगर और इंदौर में गांधीनगर के पास मेट्रो रेल डिपो के लिए डीटीसी की नियुक्ति की गई है. डिपो बनाने के लिए मेट्रो कॉर्पोरेशन जल्द ही ज़मीन का तकनीकी परीक्षण कर निविदाएं बुलाएगा.

केंद्र और राज्य का साझा प्रोजेक्ट
एमपी मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड के तहत भोपाल और इंदौर शहर में मेट्रो रेल परियोजना तैयार हो रही है.भोपाल में एम्स से करोंद चौराहा तक और भदभदा चौराहे से रत्नागिरी तिराहे तक दो करीब 30 किमी के दो कॉरिडोर बनाए जाने हैं.इंदौर में लगभग 31.5 किलोमीटर का मेट्रो कॉरिडोर बनाया जाएगा. एमपी मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड का पुनर्गठन किया गया है. केंद्र और एमपी सरकार मिलकर प्रोजेक्ट पर काम करेगी.



नगरीय निकाय चुनाव पर नज़र
दरअसल सरकार नगरीय निकाय चुनाव में मेट्रो का फायदा उठाना चाहती है.उसकी प्लानिंग है कि चुनाव की घोषणा से पहले मेट्रो का काम शुरू कर दिया जाए ताकि उसके खाते में विकास का श्रेय और वोट दोनों आ जाएं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज