भोज विश्व विद्यालय ने पेपर में पूछीं पाकिस्तान के संविधान की विशेषताएं, कांग्रेस ने CM से कर लिया सवाल

भोज विश्वविद्यालय के कुलपति ने कहा वो मामले की पड़ताल करेंगे.

BAHOPAL. भोज विश्वविद्यालय के बीए द्वितीय वर्ष (BA Second year) के राजनीति विज्ञान के पेपर में पाकिस्तान को लेकर सवाल किया गया. पेपर में पाकिस्तान के संविधान की संक्षिप्त विशेषताएं बताने के लिए कहा गया. इसके बाद कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी ने ट्वीट कर सवाल खड़े किए.

  • Share this:
भोपाल. मध्यप्रदेश में विश्वविद्यालयों में ओपन बुक सिस्टम (Open Book) से परीक्षाएं आयोजित हो रही हैं. भोपाल स्थित भोज मुक्त विश्वविद्यालय बीए द्वितीय वर्ष की परीक्षा में विवादित सवाल पूछ कर चर्चा में है. बीए सेकंड ईयर के राजनीति शास्त्र के प्रश्न पत्र में पाकिस्तान के संविधान की विशेषताओं पर सवाल पूछ लिया गया.

भोज विश्वविद्यालय के बीए द्वितीय वर्ष के राजनीति विज्ञान के पेपर में पाकिस्तान को लेकर सवाल किया गया. पेपर में पाकिस्तान के संविधान की संक्षिप्त विशेषताएं बताने के लिए कहा गया. इसके बाद कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी ने ट्वीट कर सवाल खड़े किए. चौधरी ने ट्वीट कर कहा कि बीए सेकंड ईयर के पेपर में पूछी गयीं पाकिस्तान के संविधान की विशेषताएं प्रदेश ही नहीं देश के लिए दुर्भाग्यपूर्ण हैं. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्पष्ट करें कि क्या आने वाली पीढ़ी मध्यप्रदेश में पाकिस्तान के संविधान की विशेषताएं बताएगी. शिवराज जी आपको पाकिस्तान से इतना प्रेम क्यों है.

कार्रवाई की मांग
कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी ने वीडियो जारी कर सीएम शिवराज सिंह चौहान से पूछा कि क्या वह मध्यप्रदेश के छात्र छात्राओं को आतंकवाद का पाठ पढ़ाना चाहते हैं. क्या कट्टरपंथ का पाठ पढ़ाना चाहते हैं. यह प्रदेश ही नहीं देश में शर्मसार करने वाली घटना है. इस देश में जहां के लोग आतंक फैलाते हैं और उसी देश की हमारी यूनिवर्सिटी में विशेषताएं पढ़ाई जा ही हैं. इस तरह का सवाल पूछा जाना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. इस तरह का सवाल पूछे जाने वालों पर कार्रवाई की जानी चाहिए.

कुलपति, प्रमुख सचिव को लिखेंगे पत्र
पेपर में पाकिस्तान के संविधान की विशेषताएं पूछने पर भोज यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ जयंत सोनवलकर ने सफाई दी है. उनका कहना है पेपर सेट कर लिफाफा सीधे विश्वविद्यालय को भेजा जाता है. विश्वविद्यालय की तरफ से प्रश्न पत्र का लिफाफा खोला नहीं जाता है. इस संबंध में उच्च शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव को पत्र लिखकर पेपर सेट करने वाले के खिलाफ कार्रवाई की मांग करेंगे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.