• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • Bhopal News: यूपी का साइबर ठग गिरफ्तार, इस वेबसाइट के जरिए बेरोजगारों को बना चुका है शिकार

Bhopal News: यूपी का साइबर ठग गिरफ्तार, इस वेबसाइट के जरिए बेरोजगारों को बना चुका है शिकार

एमपी की राजधानी में साइबर ठग ने नौकरी के नाम पर हजारों रुपए ठग लिए. (सांकेतिक तस्वीर)

एमपी की राजधानी में साइबर ठग ने नौकरी के नाम पर हजारों रुपए ठग लिए. (सांकेतिक तस्वीर)

MP News: मध्य प्रदेश की राजधानी में बड़ी साइबर ठगी हुई है. नौकरी के नाम पर एक युवक से हजारों रुपए ठग लिए गए. पुलिस ने आरोपी को यूपी से गिरफ्तार कर लिया है. उसके साथियों की भी तलाश जारी है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में नौकरी के नाम पर बेरोजगारों को ठगी का शिकार बनाया जा रहा है. इस बार quikr.com ठगी का बड़ा माध्यम बना है. इस वेबसाइट से साइबर ठग बेरोजगारों की डिटेल लेकर उन्हें ठग रहे हैं. ऐसे ही एक मामले में यूपी से गिरफ्तार हुए ठग गिरोह के एक सदस्य ने बड़ा खुलासा किया है. गिरोह के सदस्य रोज 20 लोगों को इसी वेबसाइट के जरिए मिली डिटेल के आधार पर फोन पर संपर्क करते थे. इसके बाद जो इनके झांसे में आ जाता था उसको प्रोसेसिंग फीस और दूसरी सुविधा देने के बहाने ठग लेते थे.

पिपलानी इलाके में रहने वाले समरीन खान ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि जॉब के लिए quikr.com पर रिज्यूम अपलोड किया था. इस रिज्यूम से जानकारी निकालने के बाद एक अज्ञात व्यक्ति ने आईसीआईसीआई बैंक में जॉब दिलाने के लिए कॉल किया. उसने अपने आप को बैंक मैनेजर बताया. जब समरीन नौकरी के लिए तैयार हो गया, तब अज्ञात व्यक्ति ने प्रोसेसिंग फीस, लैपटॉप देने और अन्य सुविधा देने के नाम पर उससे 18000 से ज्यादा रुपए की रकम फोन पे पर ले ली. इसके बाद अज्ञात आरोपी ने अपना फोन बंद कर लिया.

आरोपी ने बंद कर लिया मोबाइल

पुलिस ने बताया कि समरीन ने लगातार उससे फोन पर बात करने की कोशिश की, लेकिन उसकी तरफ से कोई जवाब नहीं मिला. अंत में आरोपी ने अपना मोबाइल फोन बंद कर लिया. समरीन की शिकायत पर पिपलानी थाना पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ FIR दर्ज की. पुलिस ने मोबाइल नंबर और बैंक अकाउंट की डिटेल के आधार पर आरोपी आशीष श्रीवास्तव को मैनपुरी उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया है.
वारदात का तरीका, 170 को ठगा

यह गिरोह quikr.com/jobs पर अपलोड रिज्यूम के जरिए बेरोजगार लोगों की जानकारी और उनके मोबाइल हासिल करते थे. इसी मोबाइल नंबर पर सम्पर्क कर खुद को बैंक अधिकारी बताते थे. आरोपी रोज 20 लोगों को फोन लगाकर नौकरी दिलाने का आश्वासन देते थे. उनसे प्रोसेसिंग फीस व अन्य सुविधाओं के नाम पर पैसे ऑनलाइन लेते थे. अभी तक आरोपी 1200 लोगों से संपर्क कर 170 लोगों के साथ धोखाधड़ी की वारदात को अंजाम दे चुके हैं. पुलिस गिरफ्तार  आरोपी के बाकी साथियों की तलाश कर रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज