• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • MP weather: 3-4 दिनों तक भारी बारिश की भविष्यवाणी, कहीं यलो, कहीं ऑरेंज अलर्ट जारी, चंबल-पार्वती सहित कई नदियां उफान पर

MP weather: 3-4 दिनों तक भारी बारिश की भविष्यवाणी, कहीं यलो, कहीं ऑरेंज अलर्ट जारी, चंबल-पार्वती सहित कई नदियां उफान पर

मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश में भारी बारिश की आशंका व्यक्त की है. लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ही रहने के लिए कहा गया है. (File)

मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश में भारी बारिश की आशंका व्यक्त की है. लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ही रहने के लिए कहा गया है. (File)

Heavy Rain news: मध्य प्रदेश की बड़ी खबर है. मौसम विभाग ने आने वाली 3 से 4 दिनों तक भारी बारिश की भविष्यवाणी की है. मौसम विभाग का कहना है कि कई जिलों में अच्छी बारिश होने से अब बारिश औसत से 3 फीसदी ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की गई है.

  • Share this:

भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) में बीते 10 दिनों से तेज बारिश (Heavy Rain) का दौर जारी है. लगातार हो रही बारिश के चलते प्रदेश की नदियां-नाले उफान पर हैं. सूबे में अब सामान्य से 3 फीसदी अधिक बारिश रिकॉर्ड की गई है. मौसम विभाग ने प्रदेश के ज्यादातर जिलों में भारी बारिश को लेकर यलो और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. चंबल, पार्वती, टेम, कूनो और सिंध नदियां उफान पर हैं. मौसम विभाग का कहना है कि 5 सिस्टम के सक्रिय होने से आने वाले 3 से 4 दिनों तक लगातार तेज बारिश का दौर जारी रहेगा.

मौसम विभाग का कहना है कि बंगाल की खाड़ी में एक गहरा कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है. इस सिस्टम के शुक्रवार को झारखंड से बिहार की तरफ बढ़ने की संभावना है. उत्तरी पाकिस्तान में हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बना हुआ है. मानसून ट्रफ फिरोजपुर, हिसार, मेरठ से होकर बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम तक बना हुआ है.अपतटीय ट्रफ दक्षिणी गुजरात तट से उत्तरी केरल के तट तक बना हुआ है. उत्तरी पाकिस्तान से पश्चिमी राजस्थान होते हुए दक्षिणी गुजरात तक एक तरफ लाइन बनी हुई है.इन पांच वेदर सिस्टम के सक्रिय रहने से अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में नमी मिल रही है. इससे प्रदेश के अधिकांश जिलों में बारिश हो रही है. आने वाले 4 से 5 दिनों तक इसी तरह से तेज बारिश का सिलसिला जारी रहेगा.

ऑरेंज और येलो अलर्ट किया जारी

मौसम विभाग ने गुना, ग्वालियर और शिवपुरी सहित आठ जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. नीमच, मंदसौर, विदिशा और छतरपुर सहित 10 जिलों में भारी बारिश को लेकर यलो अलर्ट जारी किया है. ग्वालियर-चंबल संभाग के अलावा रीवा, सतना, अनूपपुर, शहडोल, कटनी, मंडला, बालाघाट, सागर, छतरपुर और टीकमगढ़ जिला में तेज बारिश होने की संभावना है. भोपाल, होशंगाबाद और उज्जैन संभाग के अन्य जिलों में रिमझिम बारिश की संभावना जताई है.

ये नदियां उफान पर

प्रदेश भर में लगातार 10 दिनों से हो रही तेज बारिश से नदी और नाले उफान पर हैं. चंबल, पार्वती, टेम, कूनो और सिंध नदियां उफान पर हैं. गुना, शिवपुरी, श्योपुर, मुरैना और भिंड के कई गांव बाढ़ की चपेट में हैं. नदियों का पानी पुल पर आने से कई जिलों के रास्ते बंद हो गए हैं. गुना में तेज बारिश के चलते सड़क बह गई. ग्वालियर शहर में 24 घंटे में साढ़े 3 इंच से ज्यादा बारिश होने से कई कॉलोनियों में जलभराव की स्थिति बन गई है.भोपाल और इंदौर में रिमझिम बारिश हो रही है. जबलपुर में आज बरगी डैम के गेट खोले जा सकते हैं. मौसम विभाग ने आने वाले 4 से 5 दिनों तक प्रदेश भर में भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है.

प्रदेश भर में सामान्य से तीन फीसदी अधिक बारिश 

जुलाई के शुरुआती दिनों में बारिश नहीं होने के कारण प्रदेश में औसत बारिश सामान्य से 30% कम हो गई थी, लेकिन अब औसत बारिश का ग्राफ बढ़ गया है. प्रदेश में अब तक 412.8 मिमी बारिश हो चुकी है. जबकि, सीजन में अब तक औसत बारिश 399.8 मिमी है. इस तरह प्रदेश में औसत से 3 फीसदी से अधिक बारिश दर्ज हो चुकी है.

शहरों  में इतनी हुई बारिश

मौसम विभाग के मुताबिक बीते 24 घंटे में खजुराहो में 38 मिमी, सागर में 29.0 मिमी, ग्वालियर में 23.1 मिमी, सिवनी में 14.0 मिमी, मंडला में 10 मिमी, नौगांव में 9 मिमी, रीवा में 9.0 मिमी, दमोह में 8.0 मिमी, होशंगाबाद में 7.0 मिमी, इंदौर में 4.8 मिमी, पचमढ़ी में 4 मिमी, सीधी में 4. मिमी, धार में 4.0 मिमी, भोपाल में 2.8 मिमी, जबलपुर में 2.6 मिमी, खरगोन में 2.0 मिमी, श्योपुरकलां में 2.0 मिमी, छिंदवाड़ा में 2.0 मिमी, शाजापुर में 2.0 मिमी, बैतूल में 1.0 मिमी, उमरिया में 1.0 मिमी, मलाजखंड में 11 मिमी बारिश दर्ज हुई.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज