अपना शहर चुनें

States

हनीट्रैप केस : क्या पुराने अफसरों के जरिए सरकार करेगी हनीट्रैप के नये आरोपियों को बेनकाब!

SIT में दो आईपीएस अफसरों को शामिल करने पर सवाल (प्रतीकात्मक तस्वीर)
SIT में दो आईपीएस अफसरों को शामिल करने पर सवाल (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कांग्रेस (Congress) ने कहा है कि सरकार बदले की भावना से काम करना चाहती है. यही कारण है कि जांच एजेंसी में दो और IPS अधिकारियों को शामिल किया गया है.

  • Share this:
भोपाल.मध्य प्रदेश के बहुचर्चित हनी ट्रैप (Honey trape) केस में जांच कर रही एसआईटी (SIT) का दायरा बढ़ाए जाने पर अब बवाल खड़ा हो गया है. कांग्रेस ने इस पर सवाल खड़े किए हैं. सवाल यह भी उठने लगा है कि क्या बीजेपी सरकार पुराने अफसरों के जरिए हनी ट्रैप के नये आरोपियों का शिकार करेगी. बीजेपी का कहना है मामले में तेजी लाने के लिए जांच कर रही एसआईटी में अधिकारियों की संख्या बढ़ाई गई है.

SIT में 2 IPS अफसरों DIG पुलिस मुख्यालय रुचि वर्धन मिश्रा, डिप्टी डायरेक्टर पुलिस अकादमी विनीत कपूर को शामिल किया गया है. रुचि वर्धन पहले भी एसआईटी की सदस्य थीं. लेकिन मामले की जांच के बीच ही उन्हें हटा दिया गया था. वर्तमान में एसआईटी चीफ एडीजी विपिन माहेश्वरी हैं.

बदले की भावना का आरोप
हनी ट्रैप मामले की जांच कर रही एसआईटी का दायरा बढ़ाए जाने पर कांग्रेस ने सवाल खड़े किए हैं. कांग्रेस ने कहा है कि सरकार बदले की भावना से काम करना चाहती है. यही कारण है कि जांच एजेंसी में दो नये अधिकारियों को शामिल किया गया है. कांग्रेस नेता मानक अग्रवाल ने कहा बीजेपी बदले की भावना से काम कर रही है. दूसरी पार्टियों के लोगों को लपेटे में लेने और उन्हें सार्वजनिक रूप से बेइज्जत करने का काम अब सरकार करेगी.यही वजह है कि उसने एसआईटी में दो आईपीएस अफसरों को शामिल किया है. उन्होंने कहा कोर्ट में जो नाम बचे थे उन्हें भी बंद लिफाफे में सौंपा गया है. ऐसे में बीजेपी जांच में कैसी तेजी लाएगी. उन्होंने एसआईटी का दायरा बढ़ाने के पीछे बदले की भावना को बड़ी वजह बताया है.



बीजेपी ने बताई वजह...
कांग्रेस के आरोपों पर बीजेपी ने जवाब दिया है. बीजेपी नेता भगवानदास सबनानी ने कहा एसआईटी में गृह विभाग ने जांच में तेजी लाने के लिए दो और अधिकारियों को शामिल किया है. उन्होंने कहा कांग्रेस सिर्फ आरोप लगाने की राजनीति करती है. कांग्रेस के पास अब कुछ काम नहीं बचा है. यही कारण है कि उसे अच्छे काम भी गलत नजर आते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज