अपना शहर चुनें

States

MP : मार्च 2021 तक बंद रहेंगे पहली से आठवीं तक के स्कूल, 10 वीं-12वीं की होंगी बोर्ड परीक्षाएं

पांचवीं बोर्ड की परीक्षा नहीं होगी. आठवीं के स्टूडेंट्स का मूल्यांकन प्रोजेक्ट वर्क के आधार पर किया जाएगा.
पांचवीं बोर्ड की परीक्षा नहीं होगी. आठवीं के स्टूडेंट्स का मूल्यांकन प्रोजेक्ट वर्क के आधार पर किया जाएगा.

दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षाएं (Board exams) होना हैं इसलिए अब इनकी नियमित रूप से कक्षाएं लगेंगी. शिक्षा के स्तर में सुधार के लिए निजी स्कूलों की तर्ज पर सरकारी स्कूलों में केजी (KG) कक्षा की शुरुआत होगी.

  • Share this:
भोपाल.कोरोना (Corona) महामारी के कारण इस पूरे सत्र में मध्य प्रदेश में पहली से आठवीं तक के स्कूल नहीं खुलेंगे. पांचवीं और आठवीं की बोर्ड परीक्षाएं भी नहीं होंगी. सरकार ने ऐलान किया है कि मध्यप्रदेश में इस बार 30 मार्च 2021 तक स्कूल (School) नहीं खुलेंगे. लेकिन इस दौरान दसवीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी. इसलिए अब इनकी नियमित कक्षाएं लगेंगी.

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आज इस संबंध में स्कूल शिक्षा विभाग की बैठक ली. उसमें उन्होंने हालात की समीक्षा करने के बाद स्कूल ना खोलने का निर्देश दिया.

पांचवीं-आठवीं बोर्ड परीक्षाएं नहीं होंगी
शिवराज सिंह चौहान ने स्कूल शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में यह निर्देश भी दिया कि कक्षा पांचवी और आठवीं की बोर्ड परीक्षाएं इस बार आयोजित नहीं की जाएंगी.आठवीं के छात्र छात्राओं का प्रोजेक्ट वर्क के आधार पर मूल्यांकन किया जाएगा.



दसवीं-बारहवीं की होगी बोर्ड परीक्षाएं
दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षाएं होना हैं इसलिए अब इनकी नियमित रूप से कक्षाएं लगेंगी. शिक्षा के स्तर में सुधार के लिए निजी स्कूलों की तर्ज पर सरकारी स्कूलों में केजी कक्षा की शुरुआत होगी.1500 सरकारी स्कूलों में केजी 1 और केजी 2 शुरू की जाएगी. प्रदेश भर में  बेहतर काम करने वाले शिक्षकों को पुरस्कृत किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज