MP की सियासत का बड़ा सवाल, आखिर क्यों टल गया शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार!  
Bhopal News in Hindi

MP की सियासत का बड़ा सवाल, आखिर क्यों टल गया शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार!  
आखिर क्यों नहीं हो पा रहा शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार

राजभवन (raj bhawan) की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक प्रभारी राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का अभी तक भोपाल (bhopal) आने का आधिकारिक कार्यक्रम तय नहीं हुआ है. यानि फिलहाल मंत्रिमंडल विस्तार नहीं हो रहा है.

  • Share this:
भोपाल.मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में  शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार में लगातार पेंच फंसता नजर आ रहा है.दिल्ली में 2 दिन पार्टी के शीर्ष नेतृत्व सहित तमाम आला नेताओं के साथ मैराथन मंथन के बाद भी फिलहाल नतीजा कुछ नहीं निकला. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh) आज भोपाल लौट आए हैं. उनके साथ बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत भी लौटे हैं. लेकिन गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (narottam mishra) अभी भोपाल नहीं लौटे हैं.

सुबह करीब 10:30 बजे भोपाल स्टेट हैंगर पहुंचने के बाद सीएम शिवराज सीधे अपने निवास की ओर रवाना हो गए. उन्होंने मीडिया से कोई बात नहीं की. इसके बाद अब मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर अटकलें तेज हो गई हैं कि क्या आज कल में मंत्रिमंडल विस्तार हो भी पाएगा या नहीं. ऐसा इसलिए भी क्योंकि प्रभारी राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का भोपाल आने का अभी तक आधिकारिक तौर पर कोई कार्यक्रम नहीं बना है. इससे एक दिन पहले उनका भोपाल आने का कार्यक्रम रद्द किया जा चुका है. उधर मुख्यमंत्री शिवराज भी भोपाल आने के बाद विभागीय समीक्षा बैठकें करेंगे. शाम 4 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के नाम संबोधन करने वाले हैं.

नरोत्तम नहीं लौटे भोपाल
मंत्रिमंडव विस्तार को लेकर जारी भारी माथा पच्ची के बीच जब ऐसा लग रहा था कि 30 जून को नया मंत्रिमंडल आकार ले लेगा. उसी दौरान प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा कल सोमवार को अचानक दिल्ली पहुंच गए थे.लेकिन आज वो तीनों नेताओं के साथ वापस नहीं आये हैं. नरोत्तम मिश्रा सोमवार को ग्वालियर में थे. उन्हें भोपाल लौटना था. यहां उनके कई कार्यक्रम तय थे. लेकिन अचानक उन्हें दिल्ली से बुलावा आ गया और वो ग्वालियर से सीधे दिल्ली भागे गए. भोपाल के उनके सारे कार्यक्रम रद्द कर दिए गए. यह माना जा रहा है कि संभावित मंत्रिमंडल विस्तार में पेंच फंसने की वजह से ग्वालियर चंबल के सभी प्रमुख नेताओं को दिल्ली बुलाया गया था. हालांकि केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पहले से ही दिल्ली में मौजूद थे. सूत्रों की मानें तो उप चुनाव में ग्वालियर चंबल की सबसे ज्यादा   16 सीट होने की वजह से मंत्रिमंडल विस्तार में वहां का गणित साधने पर खासतौर से चर्चा की गई



दो दिन से जारी मंथन


मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत 28 तारीख से ही दिल्ली में डेरा जमाए थे 28 तारीख को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पहले बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा फिर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात हुई और फिर देर रात गृह मंत्री अमित शाह के करीब 2 घंटे तक मंथन का दौर जारी रहा 29 जून को भी दिल्ली में बैठकों के दौर जारी रहे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात की

सिंधिया शिवराज मुलाकात
अपनी ही पार्टी की सरकार गिराकर बीजेपी की सरकार बनवाने में अहम रोल निभाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया का मंत्रिमंडल गठन में भी पलड़ा भारी रहेगा. यही वजह है कि मंत्रिमंडल के नामों पर अंतिम मुहर लगने से पहले सिंधिया को भी तरजीह दी जा रही है. दिल्ली में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  ने पार्टी के आला नेताओं से मिलने के बाद सिंधिया से भी मुलाकात की थी. दोनों नेताओं के बीच दिल्ली में 1 घंटे से भी ज्यादा तक मंथन हुआ. बताया जा रहा है कि दोनों के बीच सिंधिया खेमे से मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने वाले नामों और उनके विभागों पर चर्चा की गयी. सिंधिया पहले 30 जून को भोपाल आने वाले थे लेकिन उनका कार्यक्रम भी ऐन वक़्त पर टल गया.

अब तक नहीं आयीं प्रभारी राज्यपाल
संभावित मंत्रिमंडल विस्तार के बीच उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को मध्य प्रदेश का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है. पहले यह कयास लगाए जा रहे थे कि आनंदीबेन पटेल सोमवार 29 जून को भोपाल आकर अपना प्रभार संभाल सकती हैं. दोपहर बाद उनका भोपाल आने का कार्यक्रम था. इसलिए इस संभावना को बल मिला की मंत्रिमंडल शपथ ग्रहण समारोह होने वाला है. लेकिन ऐन वक्त पर उनका  कार्यक्रम भी रद्द कर दिया गया. राजभवन की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक प्रभारी राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का अभी तक भोपाल आने का आधिकारिक कार्यक्रम तय नहीं हुआ है. यानि फिलहाल मंत्रिमंडल विस्तार नहीं हो रहा है.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading