MP Weather Forecast : बारिश का करना होगा इंतज़ार, 24 जुलाई के बाद लगेगी सावन की झड़ी
Bhopal News in Hindi

MP Weather Forecast : बारिश का करना होगा इंतज़ार, 24 जुलाई के बाद लगेगी सावन की झड़ी
एमपी में स सीजन की कुल 306.6 मिलीमीटर बारिश हुई है जो सामान्य से 269.9 मिलीमीटर ज्यादा है

मौसम विभाग का कहना है बंगाल की खाड़ी और अरब सागर में फिलहाल कोई मानसूनी सिस्टम (monsoon system) सक्रिय नहीं है.इसी वजह से मध्य प्रदेश में अभी तेज बारिश (rain) होने के आसार नहीं हैं.

  • Share this:
भोपाल.मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) के लोगों को मॉनसून की झड़ी के लिए अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा. जून में प्रदेश के बड़े इलाके में घनघोर बारिश (rain) के बाद फिलहाल बादल थमे हुए हैं. मौसम विभाग कह रहा है प्रदेश में 4 सिस्टम सक्रिय हैं. लेकिन बारिश के लिए बंगाल की खाड़ी और अरब सागर में सिस्टम सक्रिय होने का इंतज़ार करना होगा. 24 जुलाई के बाद प्रदेश में बारिश की झड़ी लग सकती है.

चार सिस्टम सक्रिय होने के बाद भी मध्यप्रदेश में अभी भी झमाझम बारिश की झड़ी नहीं लगी है.मौसम विभाग का कहना है जून की तरह ही जुलाई के महीने में झमाझम बारिश की झड़ी के लिए कुछ और सिस्टम का इंतजार करना होगा. प्रदेश में झमाझम बारिश तभी होगी जब बंगाल की खाड़ी और अरब सागर में चक्रवात बनेगा. हालांकि जो फिलहाल सिस्टम सक्रिय हैं उनसे ग्वालियर-चंबल और मालवा क्षेत्र में बौछारें पड़ने के आसार है.

9 जिलों में सामान्य से कम बारिश
मौसम विभाग बता रहा है कि प्रदेश में अब तक इस सीजन की कुल 306.6 मिलीमीटर बारिश हुई है जो सामान्य से 269.9 मिलीमीटर ज्यादा है.यानी अब तक 14 फ़ीसदी बारिश ही ज्यादा हुई है. इसके बावजूद प्रदेश में अब भी 9 जिले ऐसे हैं जहां सामान्य से भी कम बारिश हुई है.ग्वालियर, भिंड, शिवपुरी, श्योपुर टीकमगढ़,जबलपुर,छतरपुर,मंदसौर अलीराजपुर में सामान्य से भी कम वर्षा बारिश हुई है.कम बारिश होने से किसान परेशान हैं.
ग्वालियर-चंबल- मालवा में तेज बौछारें पड़ने की संभावना


मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि मानसून द्रोणिका अजमेर,गुना उमरिया,अंबिकापुर,जमशेदपुर से बंगाल की खाड़ी तक पहुंची चुकी है. उत्तरी मध्य प्रदेश पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना है.दक्षिणी गुजरात पर भी एक चक्रवात सक्रिय है.इसके अलावा मध्यप्रदेश के पास भी पूर्वी और पश्चिमी हवाओं का टकराव हो रहा है.इन चार सिस्टम के कारण प्रदेश के ग्वालियर चंबल और मालवा क्षेत्र में तेज बौछारें पड़ने के आसार हैं.

24 जुलाई के बाद तेज बारिश के आसार
मौसम विभाग का कहना है बंगाल की खाड़ी और अरब सागर में फिलहाल कोई मानसूनी सिस्टम सक्रिय नहीं है.इसी वजह से मध्य प्रदेश में अभी तेज बारिश होने के आसार नहीं हैं.हालांकि छुटपुट बौछारें जरूर पड़ी हैं.24 जुलाई के आसपास बंगाल की खाड़ी में एक ऊपरी हवा का चक्रवात बन सकता है. उसके सक्रिय होने के बाद ही प्रदेश में एक बार फिर मानसून के रफ्तार पकड़ने के आसार हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज