• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • Weather Update: भोपाल में बदला मौसम का मिजाज, 19 दिन बाद खिली धूप

Weather Update: भोपाल में बदला मौसम का मिजाज, 19 दिन बाद खिली धूप

ट्रफ लाइन ऊपर शिफ्ट होने और लो प्रेशर एरिया के खत्म होने के कारण भोपाल में आसमान साफ हुआ है.

ट्रफ लाइन ऊपर शिफ्ट होने और लो प्रेशर एरिया के खत्म होने के कारण भोपाल में आसमान साफ हुआ है.

MP Weather Update: मध्‍य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) में 19 दिन बाद मौसम का मिजाज बदला है. आज यानी मंगलवार को धूप खिली है और यह दौर अगले दो-तीन दिन जारी रहेगा. यह सब ट्रफ लाइन ऊपर शिफ्ट होने और लो प्रेशर एरिया के खत्म होने के कारण हुआ है. बता दें कि मध्‍य प्रदेश के कई जिला भारी बारिश (Heavy Rain) की वजह से बाढ़ की चपेट में हैं.

  • Share this:

भोपाल. मध्य प्रदेश में पिछले काफी दिनों से हो रही भारी बारिश (Heavy Rain) की वजह से कई जिले बाढ़ की चपेट में हैं. इस दौरान ग्वालियर-चंबल संभाग समेत दतिया, शिवपुरी, श्‍योपुर समेत कई जिलों में राहत और बचाव कार्य के लिए न सिर्फ सेना को मैदान में उतरना पड़ा बल्कि सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) समेत तमाम मंत्री भी दौरे करते नजर आए. हालांकि मध्‍य प्रदेश की राजधानी भोपाल में 19 दिन बाद मौसम (Bhopal Weather) का मिजाज आज बदला नजर आ रहा है. मौसम के खुलने के साथ धूप निकलने से लोगों को राहत मिली है. जबकि मौसम हुआ ये बदलाव आने वाले 2 से 3 दिनों तक जारी रहेगा.

बहरहाल, ट्रफ लाइन ऊपर शिफ्ट होने और लो प्रेशर एरिया के खत्म होने के कारण मध्‍य प्रदेश की राजधानी में मौसम का मिजाज बदला है. इस वजह से आज दिन में धूप निकलने के साथ तापमान में हल्का सा इजाफा होगा. हालांकि मौसम विभाग ने शाम के वक्त हल्की हल्की बारिश की संभावना जताई है.

सीएम ने किया बड़ा ऐलान
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भारी बारिश के कारण आई बाढ़ वाले इलाकों में लोगों की मदद के लिए जारी राहत कार्यों की देखरेख के लिए एक कार्यबल का गठन किया है, जिसमें 12 मंत्री शामिल हैं. इसके अलावा सीएम ने कहा कि बाढ़ के कारण मरने वाले लोगों के परिवारों को चार-चार लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी. वहीं, उन्‍होंने कहा कि वायु सेना, सेना, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) ने बाढ़ प्रभावित जिलों में विभिन्न स्थानों में फंसे 8900 लोगों को बचाया है. जबकि 32900 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है.

इसके अलावा सीएम ने कहा कि लाभार्थियों को नियमित राशन के अलावा बाढ़ प्रभावित परिवारों को 50 किलोग्राम अतिरिक्त अनाज दिया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘जहां भी संभव होगा हम प्रभावित परिवारों को आटा उपलब्ध कराएंगे ताकि वे तुरंत अपने भोजन की व्यवस्था कर सकें. इसके अलावा जिन परिवारों ने अपने घर खो दिए हैं, उन्हें तुरंत 6000 रुपये दिए जा रहे हैं ताकि वे किराए के मकानों में रह सकें. वहीं, सर्वे के बाद बाढ़ की वजह से बबार्द हुए मकानों के लिए 1.20 लाख रुपये सरकार देगी, तो दुधारू मवेशी खोने वालों को 30 हजार रुपये दिए जाएंगे. वहीं, अन्य पशुओं के लिए 25 हजार रुपये की सहायता दी जाएगी.’

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज