MP: राहुल ने क्यों कहा खून की खेती हो रही है, दिल्ली हिंसा में उनकी भूमिका की जांच हो- वीडी शर्मा

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा. (फाइल फोटो)

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा. (फाइल फोटो)

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि किसान आंदोलन के नाम पर देश की राजधानी दिल्ली में जो कुछ हुआ यह देश को बदनाम करने की साजिश थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 5:13 PM IST
  • Share this:
भोपाल. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने कहा कि गणतंत्र दिवस के मौके पर देश की राजधानी दिल्ली में जो कुछ हुआ वह दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा- राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि खून की खेती हो रही है, तो क्या देश की राजधानी दिल्ली में वही सबकुछ हो रहा है. उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले में राहुल गांधी की भूमिका की जांच होनी चाहिए.

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि किसान आंदोलन के नाम पर देश की राजधानी दिल्ली में जो कुछ हुआ यह देश को बदनाम करने की साजिश थी. वह सरकार से मांग करते हैं कि इस मामले में राहुल गांधी की भूमिका की जांच होनी चाहिए. क्योंकि तथाकथित वामपंथी और कांग्रेसी नेता मिलकर देश को बदनाम करना चाहते हैं.

Youtube Video


 दिल्ली पुलिस की तारीफ
वीडी शर्मा ने कहा कि 26 जनवरी को दिल्ली पुलिस ने जो संयम दिखाया है वह उस काम के लिए दिल्ली पुलिस की सराहना करना चाहते हैं. क्योंकि वामपंथी और कांग्रेसी नेता तो मिलकर देश का माहौल बिगाड़ना ही चाहते थे. लेकिन दिल्ली पुलिस ने ऐसा होने से रोक दिया. इसलिए दिल्ली पुलिस की सराहना जितनी की जाए उतनी कम हैं.

तिरंगे का अपमान देश स्वीकार नहीं करेगा

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जिस तरह से 26 जनवरी के दिन तिरंगे का अपमान किया गया, यह सबने देखा है. लेकिन देश तिरंगे का अपमान सहन नहीं करेगा. जिसने भी यह किया है उनके खिलाफ सख्त कदम उठाया जाए.



निकाय चुनाव के लिए बीजेपी तैयार

इधर नगरीय निकाय चुनाव के लिए बीजेपी (BJP) तैयार है. इसी सिलसिले में गुरुवार को बीजेपी प्रदेश मुख्यालय में निकाय चुनाव के संचालन के लिए बनी समिति की पहली बैठक हुई.इसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा, संगठन महामंत्री सुहास भगत के साथ संचालन समिति के संयोजक पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता समेत तमाम सदस्य मौजूद रहे.  बैठक में निकाय चुनाव को लेकर रणनीति तैयार की गई. तय किया गया कि संचालन समिति के सभी सदस्यों को तीन से चार जिलों की जिम्मेदारी दी जाएगी. सभी सदस्य अपने अपने प्रभार वाले जिलों में जाकर जिलाध्यक्ष और स्थानीय कार्यकर्ताओं पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे और आने वाले चुनाव की रणनीति तैयार करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज