• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • दिल्ली-मुंबई से इस नये रास्ते जुड़ेगा MP, जानिए नितिन गडकरी क्या सौगात देने वाले हैं

दिल्ली-मुंबई से इस नये रास्ते जुड़ेगा MP, जानिए नितिन गडकरी क्या सौगात देने वाले हैं

भारत माला परियोजना के एमपी में आने वाले 245 किलोमीटर एक्सप्रेस-वे निर्माण पर 11 हजार 183 करोड़ रुपये का खर्च होगा

भारत माला परियोजना के एमपी में आने वाले 245 किलोमीटर एक्सप्रेस-वे निर्माण पर 11 हजार 183 करोड़ रुपये का खर्च होगा

Bharat Mala Project : भारत माला परियोजना (Bharat mala project,) का 245 किलोमीटर एरिया राजस्थान के रामगंज मंडी से प्रवेश करता हुआ मध्यप्रदेश में मंदसौर, रतलाम, झाबुआ जिले से होता हुआ अनास नदी के पास गुजरात में प्रवेश करेगा. एमपी में इस पर करीब 12 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे.

  • Share this:

भोपाल. केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) 16 सितंबर को इंदौर आ रहे हैं. इस दौरान वो इंदौर के ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेंटर में लगभग 11 हजार करोड़ रुपये लागत की Bharat mala project नेशनल हाईवे परियोजनाओं का भूमि-पूजन और लोकार्पण करेंगे. इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के अलावा मध्य प्रदेश सरकार के लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव और राज्य मंत्री सुरेश धाकड़ भी मौजूद रहेंगे.

तय कार्यक्रम के मुताबिक नितिन गड़करी 16 सितंबर 2021 को दोपहर 3 बजे रतलाम जिले के जावरा पहुंचेंगे. वहां पर दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेस-वे निर्माण कार्य का जायजा लेंगे. उसके बाद हेलिकॉप्टर से शाम 5 बजे इंदौर पहुंचेंगे. इंदौर में शाम 6 बजे ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेटर में आयोजित कार्यक्रम में भाग लेंगे. उनका रात्रि विश्राम इंदौर में ही होगा. वो 17 सितंबर को सुबह 10 बजे वड़ोदरा के  लिए रवाना हो जाएंगे.

दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेस-वे प्रोजेक्ट
दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेस-वे भारत माला परियोजना के तहत देश की राजधानी दिल्ली को देश की वाणिज्यिक राजधानी मुम्बई से जोड़ने वाली सबसे महत्वाकांक्षी परियोजना है. लगभग 1350 किलोमीटर लंबे इस हाईवे के निर्माण पर भारत सरकार 90 हजार करोड़ रूपये खर्च कर रही है. इस प्रोजेक्ट को जनवरी 2023 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है. यह राष्ट्रीय राजमार्ग देश के 5 राज्यों दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, गुजरात और महाराष्ट्र से होकर गुजरेगा.

मध्यप्रदेश में एक्सप्रेस-वे
खास बात ये है कि देश की इस महत्वाकांक्षी परियोजना का 245 किलोमीटर एरिया राजस्थान के रामगंज मंडी से प्रवेश करता हुआ मध्यप्रदेश में मंदसौर, रतलाम, झाबुआ जिले से होता हुआ अनास नदी के पास गुजरात में प्रवेश करेगा. प्रदेश में 245 किलोमीटर एक्सप्रेस-वे निर्माण पर 11 हजार 183 करोड़ रुपये का खर्च होगा. एक्सप्रेस-वे मध्य प्रदेश के डेवलपमेंट के लिहाज से अहम होगा. प्रदेश के सीमावर्ती जिले झाबुआ, रतलाम, मंदसौर के साथ उज्जैन, इंदौर भी दिल्ली और मुम्बई से सीधे जुड़ जाएंगे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज