मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस की यूथ ब्रिगेड करेगी टीम सिंधिया का मुकाबला
Bhopal News in Hindi

मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस की यूथ ब्रिगेड करेगी टीम सिंधिया का मुकाबला
MP: विधानसभा उप चुनाव में कांग्रेस की यूथ ब्रिगेड करेगी टीम सिंधिया का मुकाबला

प्रदेश की 24 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में पहली बार एनएसयूआई, यूथ कांग्रेस से लेकर सेवादल तक को मंडलम और सेक्टर स्तर तक टीम गठित करने के निर्देश दिए गए हैं

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) की जिन 24 विधानसभा सीटों (Assembly Seats) पर उपचुनाव होना है वहां कांग्रेस की रणनीति संकेत दे रही है कि उसका फोकस युवाओं पर है. पार्टी अपनी पूरी यूथ ब्रिगेड को इस बार कैंपेन में उतारने जा रही है. पहली बार NSUI और यूथ कांग्रेस (Youth Congress) को मंडलम और सेक्टर स्तर की टीम बनाने के लिए कहा गया है. पार्टी के यह युवा इस बार कैंपेन संभालेंगे.

प्रदेश की 24 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस पूरी ताकत झोंकने की तैयारी में है. पहली बार एनएसयूआई, यूथ कांग्रेस से लेकर सेवादल तक को मंडलम और सेक्टर स्तर तक टीम गठित करने के निर्देश दिए गए हैं. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने गुरुवार को भोपाल में एनएसयूआई और यूथ कांग्रेस के पदाधिकारियों के साथ इस सिलसिले में बैठक की. इसमें उपचुनाव में युवा संगठनों की भूमिका को लेकर चर्चा की गई. कमलनाथ ने एनएसयूआई और यूथ कांग्रेस को 24 विधानसभा सीटों में सेक्टर स्तर तक टीम बनाने के लिए कहा है. साथ ही कांग्रेस की विचारधारा, कमलनाथ सरकार की इंदिरा गृह ज्योति योजना और किसान कर्ज माफी जैसे फैसलों के प्रचार की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

विपिन वानखेड़े फिर होंगे प्रत्याशी!
बैठक में आगर विधानसभा सीट पर मंथन हुआ. यहां से कांग्रेस के संभावित उम्मीदवार एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष विपिन वानखेडे फिर से मैदान में आ सकते हैं. पिछले चुनाव में विपिन वानखेडे बीजेपी के मनोहर ऊंटवाल से मामूली वोटों के अंतर से हार गए थे. यह सीट मनोहर ऊंटवाल के निधन के बाद खाली हुई है और पार्टी यहां फिर युवा चेहरे विपिन वानखेड़े को मौका देने की तैयारी में है. कमलनाथ ने साफ कर दिया है कि किसी भी हाल में आगर सीट पर कांग्रेस का झंडा फहराना चाहिए.



उपचुनाव के लिए सेवादल की प्लानिंग


उपचुनाव में कांग्रेस सेवा दल ने भी अपनी सक्रिय भूमिका निभाने की तैयारी कर ली है. संगठन ने चौबीसों विधानसभा सीट पर प्रभारी नियुक्त कर दिए हैं. संगठन ने तय किया है कि उपचुनाव में 11 कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई जाएगी. 15 जिलों में मंडलम से लेकर सेक्टर तक सेवादल कार्यकर्ता नियुक्त होंगे. साथ ही उन जिलों में नई इकाइयां बनायी जाएंगी, जहां सिंधिया समर्थकों का कब्जा था. मुरैना, शिवपुरी, ग्वालियर ग्रामीण और भिंड जिला अध्यक्षों को हटाकर नए चेहरों को नियुक्त किया जाएगा.

ये भी पढ़ें-

शराब दुकानों पर विवाद : हाईकोर्ट ने ठेकेदारों को दिए दो विकल्प और 3 दिन का समय

न नोटिस, न कोई फरमान, आखिर कांग्रेस MLA ने क्यों छोड़ा सरकारी घर ?
First published: June 4, 2020, 8:57 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading