मुकेश नायक ने चुनाव लड़ने से किया इंकार, ये बताई वजह...

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मुकेश नायक ने कहा कि जिस तरह से मध्य प्रदेश में संस्थागत जातिवाद शुरू हो गया है अगर उसे जल्द नहीं रोका गया तो मध्य प्रदेश भी बिहार और उत्तर प्रदेश की श्रेणी में शामिल हो जाएगा.

Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: March 14, 2019, 4:30 PM IST
Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: March 14, 2019, 4:30 PM IST
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मुकेश नायक ने लोकसभा चुनाव के मैदान में उतरने से मना कर दिया है. पहले ये दावा किया जा रहा था कि विधानसभा चुनाव हारने के बाद मुकेश नायक बुंदेलखंड की किसी सीट से ताल ठोकेंगे. हाल ही में मुकेश नायक के फेसबुक पेज पर एक पोस्ट वायरल हुई, जिसमें मुकेश नायक को टैग किया गया है. फेसबुक पर वायरल हो रहे पोस्ट पर मुकेश नायक ने सबसे पहले न्यूज 18 से खास-बातचीत में कहा कि वो चुनाव नहीं लड़ेंगे.

मुकेश नायक ने बताया कि उन्हें पिछले चुनाव के दौरान बहुत खराब अनुभव का सामना करना पड़ा. साथ ही उन्होंने कहा कि जिस तरह से मध्य प्रदेश में संस्थागत जातिवाद शुरू हो गया है अगर उसे जल्द नहीं रोका गया तो मध्य प्रदेश भी बिहार और उत्तर प्रदेश की श्रेणी में शामिल हो जाएगा.



कांग्रेस पार्टी में गुटबंदी पर नायक ने कहा कि सभी पार्टियों में गुटबाजी होती है और जनता के बीच जातिवाद होता है. विधानसभा चुनाव में हार पर उन्होंने कहा कि पार्टी के अंदर गुटबाजी और जातिवाद के चपेट में आने के कारण ही चुनाव में हार हुई. इन सारी समीकरणों को देखते हुए उन्होंने कहा कि ये उनका व्यक्तिगत निर्णय है कि वो चुनाव नहीं लड़ेंगे. इसके साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि इस आशय में पार्टी आलाकमान को भी जानकारी दे दी गई है.

ये भी पढ़ें- MP भाजपा में घमासान: जिन पर टिकट बांटने की जिम्मेदारी, वही मांग रहे हैं टिकट
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...