कांग्रेस में बदलाव : दीपक बाबरिया का इस्तीफा, मुकुल वासनिक को मध्य प्रदेश प्रभारी बनाया
Bhopal News in Hindi

कांग्रेस में बदलाव : दीपक बाबरिया का इस्तीफा, मुकुल वासनिक को मध्य प्रदेश प्रभारी बनाया
दीपक बाबरिया का इस्तीफा, मुकुल वासनिक को मध्य प्रदेश प्रभारी बनाया

कांग्रेस में अब तक पार्टी के तीन बड़े चेहरे थे-कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया. सिंधिया के पाला बदलकर बीजेपी में जाने के बाद खाली हुई जगह को भरने के लिए मुकुल वासनिक पर कांग्रेस पार्टी ने भरोसा जताया है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में कांग्रेस (congress) पार्टी ने बड़ा फेरबदल किया है. पार्टी के महासचिव और प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया को हटा दिया गया है. उनकी जगह मुकुल वासनिक (mukul vasnik) को ये ज़िम्मेदारी दी गयी है. इस फेरबदल को प्रदेश की 24 सीटों पर होने वाले उपचुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है. 24 सीटों पर जीत की रणनीति बना रहे कमलनाथ को अब मुकुल वासनिक का साथ मिलेगा.

इससे पहले 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार पर दीपक बाबरिया ने प्रदेश प्रभारी के पद से अपना इस्तीफा दिया था, लेकिन पार्टी ने उसे स्वीकार नहीं किया था. अब सवा साल गुजर जाने के बाद कांग्रेस पार्टी ने प्रदेश प्रभारी पद से बाबरिया को हटाकर मुकुल वासनिक को प्रदेश प्रभारी की कमान सौंपी है. कांग्रेस पार्टी की कोशिश है कि प्रदेश की 24 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतकर दोबारा सत्ता में अपनी वापसी करे. इसके लिए अब कमलनाथ और मुकुल वासनिक की जोड़ी रणनीति बनाएगी.

कार्यकर्ताओं ने की थी बदसुलूकी
दीपक बाबरिया और कमलनाथ के बीच समन्वय की कमी नजर आ रही थी. कार्यकर्ताओं के बाबरिया को लेकर सुर मुखर होने लगे थे.विधानसभा चुनाव के दौरान भी रीवा और विदिशा में उनके साथ बदसुलूकी भी की गयी थी.
सिंधिया की जगह ले पाएंगे वासनिक


कांग्रेस में अब तक पार्टी के तीन बड़े चेहरे थे-कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया. सिंधिया के पाला बदलकर बीजेपी में जाने के बाद खाली हुई जगह को भरने के लिए मुकुल वासनिक पर कांग्रेस पार्टी ने भरोसा जताया है. ऐसे में अब यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या वासनिक प्रदेश में पार्टी का चेहरा बनेंगे. साथ ही ग्वालियर चंबल इलाके में सिंधिया के खाली हुए स्थान को भर पाएंगे. यदि ऐसा होता है तो आने वाले उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी बीजेपी के लिए एक बड़ी चुनौती जरूर बन सकती है.

ये भी पढ़ें :-

कपूर खानदान के कई खास किस्सों का गवाह बना रीवा, सहेज रखी हैं यादें

बिना मास्क पहने बाहर बैठे थे लोग, पुलिस ने समझाया तो पकड़ ली लाठी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज