Home /News /madhya-pradesh /

बंद कमरे में तीन तलाक की बात, परदे के पीछे शरीयत पर चर्चा, हिंदुओं ने की खातिरदारी

बंद कमरे में तीन तलाक की बात, परदे के पीछे शरीयत पर चर्चा, हिंदुओं ने की खातिरदारी

मुस्लिम मेहमानों की मेहमाननवाजी कर रहे हिन्दुओं ने बताया कि उनको जो जवाबदारी मिली हुई है उसे वो बड़ी प्रसन्नता और शिद्दत से निभा रहे हैं

मुस्लिम मेहमानों की मेहमाननवाजी कर रहे हिन्दुओं ने बताया कि उनको जो जवाबदारी मिली हुई है उसे वो बड़ी प्रसन्नता और शिद्दत से निभा रहे हैं

मुस्लिम मेहमानों की मेहमाननवाजी कर रहे हिन्दुओं ने बताया कि उनको जो जवाबदारी मिली हुई है उसे वो बड़ी प्रसन्नता और शिद्दत से निभा रहे हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated :
    पूरे देश की निगाहें पिछले दो दिनों तक मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल पर लगी हुई थी. मौका था मुस्लिमों की सबसे बड़ी संख्या मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक का और साथ ही तीन तलाक पर चर्चा होना था. बोर्ड के नुमाइंदों ने बंद कमरे में 'तीन तलाक' पर बात की, तो परदे के पीछे ख्वातिनों यानि महिलाओं ने भी तीन तलाक पर शरीयत सहित तमाम मुद्दों पर अपनी बात रखी.

    मुस्लिमों की नुमाइंदगी करने वाली बैठक पर हुई तमाम बातों पर बहस और रहस्यमय चुप्पी के बीच दो दिनों तक हुआ आयोजन गंगा-जमुनी तहजीब की भी मिसाल बन गया. पूरे देश की निगाहें तीन तलाक के फैसले पर टिकी हुई थीं. लेकिन न्यूज18 तमाम खबरों के साथ-साथ आपकों यह भी बता रहा है कि कैसे यह आयोजन हिंदू-मुस्लिम सद्भाव की मिसाल बन गया.

    दरअसल, दो दिवसीय आयोजन पूरी जिम्मेदारी ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के कार्यकारिणी सदस्य आरिफ मसूद के कंधों पर थी. ऐसे में इस जवाबदारी को पूरा करने के लिए उन्होंने अपनी करीबियों और दोस्तों पर भरोसा किया. इसमें खास बात ये रही कि सारे लोग हिंदू थे, जिनके जिम्मे आयोजन में शामिल हुए सभी लोगों के खाने, ठहरने और अन्य जरूरी इंतजाम करने की जिम्मेदारी थी.

    मुस्लिम मेहमानों की मेहमाननवाजी कर रहे हिन्दुओं ने बताया कि उनको जो जवाबदारी मिली हुई है उसे वो बड़ी ख़ुशी और शिद्दत से निभा रहे हैं. आनंद सिंह सेंगर ने कहा कि हर बात को धर्म से नहीं जोड़ा जाता. और हमें यह ख़ुशी है कि हिन्दुस्तान के बड़े बड़े लोगों की खिदमत और सेवा करने का मौका मिल रहा है. रसोइए का काम कर रहे सोनू अहिरवार बताते हैं कि हमें बहुत खुशी है कि हम लोग हिन्दू-मुस्लिम भाईचारे के लिए ऐसा काम कर रहे हैं.

    यह कहना अतिशयोक्ति नहीं होगा कि मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की रविवार को खानूगांव में बंद कमरे में हुई बैठक हो या फिर इकबाल मैदान पर परदे के पीछे हुआ महिला सम्मेलन. सभी जगहों पर हिंदुओं के हाथ में आयोजन को सफल बनाने की कमान रखी.

    ये भी पढ़ें,

    मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक बेनतीजा, तीन तलाक पर कमेटी बनाई

    AIMPLB की महिला विंग ने तीन तलाक के फैसले पर एतराज, बताया- शरीयत के खिलाफ

    Tags: All India Muslim Personal Law Board

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर